Archives for बिहार/झारखंड

बिहार/झारखंड

समय ‘वाचाल’ है और कवि ‘मौन’!

पशुपति शर्मा 'समय वाचाल है' इसी शीर्षक से आजतक में कार्यरत वरिष्ठ पत्रकार साथी देवांशुजी का काव्य संग्रह हाथ में आ गया है। इस बार 'साहित्य आजतक' में सम्मिलित होने…
और पढ़ें »
बिहार/झारखंड

‘तालाबंदी’ से संकट में एशिया के सबसे बड़े पशु मेले का वजूद

फोटो साभार- ईटीवी पुष्यमित्र एशिया का सबसे बड़ा पशु मेला यानी सोनपुर मेला आज बंद है। दिलचस्प है कि मेले के सभी दुकानदारों ने यह बंदी खुद की है ।…
और पढ़ें »
बिहार/झारखंड

पूंजीपति रहेंगे मस्त तो किसान रहेंगे पस्त

ब्रह्मानंद ठाकुर तमिलनाडु के किसानों का आंदोलन और मध्य प्रदेश के मंदसौर में अपनी मांगों को लेकर आंदोलनकारी किसानों पर पुलिसिया जुल्म के बाद तमाम किसान संगठन एक मंच पर…
और पढ़ें »
बिहार/झारखंड

संवाद की कोशिश में एक महिला का ‘सरेंडर’!

सुदीप्ति एक ही ससुराल है अपना तो। अब मायके से ज्यादा अपना। भई हम सुतली बम में सच्ची यकीन नहीं करते। जैसे हैं वैसे को बाहें फैला अपनाया है लोगों…
और पढ़ें »
बिहार/झारखंड

प्रकृति से उत्पादन और भरोसे का व्रत है अक्षय नवमी

ब्रहमानन्द ठाकुर अक्षय नवमी का व्रत पौराणिक कथाओं पर आधारित है। इसकी कथा नारद मुनि शौनक ऋषि से कहते हैं। कथा की शुरुआत भगवान विष्णु की स्तुति से होती है। इस…
और पढ़ें »
बिहार/झारखंड

पत्रकारिता को न्यूज़ चैनलों और अख़बारों में मत तलाशिए

पुष्यमित्र हिंदी पत्रकारिता में आज भी एक स्वतंत्र पत्रकार का सर्वाइवल मुश्किल है। विभिन्न अखबारों में फीचर और आलेख लिखने वाले कुछ सीनियर पत्रकार भी अगर सर्वाइव कर रहे हैं तो…
और पढ़ें »
बिहार/झारखंड

‘बाजारवाद’ के मायाजाल में दम तोड़ती ‘आस्था’

ब्रह्मानंद ठाकुर दुर्गा पूजा यानी शक्ति की आराधना और उपसना का पर्व । 9 दिन तक हर तरफ भक्ति का सैलाब उमड़ता-घुमड़ता है । बचपन से ही दुर्गा पूजा के…
और पढ़ें »
बिहार/झारखंड

2 अक्टूबर से मुजफ्फरपुर में पहली बदलाव पाठशाला

आगामी गांधी जयंती- 2 अक्तूबर- को हम एक नया मिशन शुरू करने जा रहे हैं। समाज के '' उपेक्षित लेकिन अपेक्षित '' वर्ग के बच्चों तक शिक्षा की रोशनी पहुंचाने…
और पढ़ें »
बिहार/झारखंड

वंशीपचडा-वह गांव जिसने रामबृक्ष को बेनीपुरी बना दिया

ब्रह्मानंद ठाकुर एक नन्हा -सा टुअर बालक जिसकी मात्र 4 साल की उम्र में मां मर गयी और जब वह 9 वर्ष का था तो पिता भी साथ छोड़ गए।…
और पढ़ें »
बिहार/झारखंड

बिहार में बाढ़ के देवदूत

बदलाव प्रतिनिधि, मुजफ्फरपुर बिहार में हर तरफ बाढ़ से त्राहिमाम त्राहिमाम हो रहा है । सैलाब के आगे जिंदगी बेबस और लाचार हो गई है, लेकिन कुछ ऐसे लोग हैं…
और पढ़ें »