Author Archives: badalav - Page 3

बिहार/झारखंड

नरसिम्हा राव से लेकर मोदी तक सवर्ण आरक्षण और राजनीति

सरकारी नौकरियों और शिक्षा संस्थानों में अब सवर्णों को भी 10 प्रतिशत आरक्षण मिलेगा । अब तक आरक्षण का फायदा SC, ST और OBC को मिल रहा था, कुछ राज्यों…
और पढ़ें »
गांव के रंग

भुजइन के भार के बहाने किस्सा गांव का

रज़िया अंसारी  गांव के लहलहाते हरे भरे खेत, खेतों में सरसों के पीले-पीले फूल, कुएं पर पानी भरती गांव की औरतें, जंगल से लकड़ियों का बोझा सर पर ढोकर लाती…
और पढ़ें »
मेरा गांव, मेरा देश

जज्बात के तूफान ड्रग्स से खतरनाक… स्कूल के गेट से लटक जोड़े ने दी जान

मर जाते हैं या मार दिये जाते हैं । थोड़ी समझ होती है तो दोनों अलग रास्ता खुद अपना लेते हैं और नई जिंदगी शुरू कर देते हैं । ग्रेटर…
और पढ़ें »
मेरा गांव, मेरा देश

एक ओर योगी की बात… दूसरी ओर गायों की लाश

2017 में जब यूपी की सत्ता बदली और एक मंदिर का महंत, गाय को प्यार करने वाला सीएम की कुर्सी पर बैठा तो लगा कि गायों के अच्छे दिन जल्द…
और पढ़ें »
मेरा गांव, मेरा देश

‘ईमानदार डीएम’ के आवास पर CBI छापा

सड़क निर्माण में गड़बड़ी पर ठेकेदार और जूनियर अधिकारियों को डांटते हुए। साल 2014 में वो तस्वीरें खबरों में छा गई थीं। एक डीएम की ईमानदारी और भ्रष्टाचार के खिलाफ…
और पढ़ें »
चौपाल

कुंभ पर एक ‘साहित्यकार’ की जीवंत फोटो प्रदर्शनी

अजामिल जी के फेसबुक वॉल से साभार इलाहाबाद के बहुचर्चित छायाकार एस के यादव ने विश्व के सबसे बड़े अध्यात्मिक कुंभ मेले का अभिनंदन कुंभ की स्मृतियों को सहेजे लगभग…
और पढ़ें »
चौपाल

बच्‍चों की मार्कशीट को जिंदगी पर हावी न होने दें

दयाशंकर मिश्र बच्‍चों को संपत्ति की तरह न मानने, ‘बच्‍चे हमसे हैं, हमारे लिए नहीं’ भावना वाली परवरिश के सिद्धांत, विनम्र अनुरोध को देशभर के पाठकों से बेहद सृजनात्‍मक, सुखद…
और पढ़ें »
गांव के नायक

लाइट, कैमरा, एक्शन और ‘कुंभ कथा’

अरुण प्रकाश रोज की तरह आज देर शाम कुछ पल के लिए फेसबुक पर सरसरी नजर डालने बैठा तो अचानक एक पोस्ट पर निगाहें टिक गईं । पोस्ट करने वाले…
और पढ़ें »
आईना

राष्ट्र और राज्य को कल्याणकारी होना चाहिए, सलेक्टिव नहीं !

उर्मिलेश उर्मिल के फेसबुक वॉल से साभार फाइल फोटो हमारे अनेक समकालीन जानते हैं कि इलाहाबाद में कई साथियों के साथ हम जैसे लोग भी इमरजेंसी का अपने स्तर पर…
और पढ़ें »
गांव के नायक

“नेहरू मिथक और सत्य” किताब 5 जनवरी को आप सबके बीच

किताब "नेहरू मिथक और सत्य" 5 जनवरी को आप सब के हाथ में आ जाएगी। किताब की भूमिका संघर्ष की पत्रकारिता का चेहरा बन चुके वरिष्ठ पत्रकार रवीश कुमार ने लिखी…
और पढ़ें »