Archives for मेरा गांव, मेरा देश - Page 64

गेहूं ने निराश किया, मक्का से उम्मीदें

रुपेश कुमार चौकाने वाले आंकड़े हैं कि जिले में प्रत्येक वर्ष गेहूं की उत्पादकता कम होती जा रही है। राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा मिशन एवं राष्ट्रीय कृषि विकास योजना के अंतर्गत…
और पढ़ें »

भारत माता की जय, समर्थन-विरोध का खेल निराला है!

पन्ना लाल भारत में देशभक्ति पर चल रही बहस को संदर्भों में देखने की जरूरत है। मातृभूमि की पूजा को भारत में एक सहज विचार माना जाता रहा है। 'भारत…
और पढ़ें »

मैनपुरी का ‘मास्टर्स इन फ्लावर’

दिल्ली के कृषि मेले में फूलों के बीच युवा किसान रवि पाल अरुण यादव बदलाव की बयार कब और कहां से निकलेगी ये कोई नहीं जानता । क्या आप सोच…
और पढ़ें »

आजाद ज़िंदगी की जंग

फोटो- अजय कुमार मनोज कुमार आजाद ज़िंदगी पाने की जंग अब भी बाकी है उम्मीद रोशनी की लौ अब भी जलाना बाकी है देखकर हैरान हूं मैं किस जहां के…
और पढ़ें »

परशुराम की तपोभूमि में एक और तपस्या

पोखर में पानी के लिए गांव वालों का भागीरथ प्रयास । सत्येंद्र कुमार यादव 19 अप्रैल को गांव पिंडी, देवरिया जाना हुआ। 20 अप्रैल को मामा के बेटे की शादी…
और पढ़ें »

30 साल बाद… अपने कॉलेज में ‘ताका-झांकी’

मुज़फ़्फ़रपुर के एलएस कॉलेज की नई-पुरानी यादें (मैं, ममता और मेरी बेटी ) अजीत अंजुम की फेसबुक वॉल से अतीत बहुत पीछे छूट जाता है । असंख्य चेहरे होते हैं,…
और पढ़ें »

नौबतपुर का अनोखा रामभक्त

चित्र- रवि वर्मा पुष्य मित्र देश में कभी राम को लेकर वाकयुद्ध चलता है तो कभी भारत माता के नाम पर महाभारत, लेकिन ऐसे लोगों को ना तो राम से…
और पढ़ें »

वो नीतीश से पहले से चला रहे हैं शराबबंदी अभियान

मुकेश पांडेय वे महिलाएं जिनकी बदलौत चांदी गांव में आयी शांति और समृद्धि। यह कहानी रोहतास जिले के चांदी पंचायत की है। अकोढ़ी गोला प्रखंड में पड़ने वाले इस पंचायत की…
और पढ़ें »

कोसी के लिए मुरलीगंज का अलर्ट !

फोटो- अजय कुमार रुपेश कुमार यूपी, बिहार, महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश समेत तमाम राज्य सूखे की मार झेल रहे हैं । यूपी का बंदेलखंड हो या महाराष्ट्र का विदर्भ, सब जगह…
और पढ़ें »

शक्ति ! तेरे गुड़ की ढेली चुराने को जी चाहता है…

विनोद कापड़ी मच्छरदानी हटाई जा रही है। गद्दे उठा लिए गए हैं। कूलर हटाए जा चुके हैं। पुआल समेटी जा रही है। शक्तिमान के अस्थायी बाड़े या अस्पताल में अब…
और पढ़ें »