Archives for आईना - Page 15

आईना

युद्ध के विरुद्ध

सचिन कुमार जैन युद्ध ऐसी भूख है जो जिन्दा को खाती है इंसान हो, जानवर हो नदी हो, या बर्फ के पहाड़ उसे तो बस लाशें भाती हैं जितनी ज़्यादा…
और पढ़ें »

फ्लॉप फिल्म में जिंदगी का हिट फंडा

फिल्म 'बार-बार देखो' की तस्वीर  मुझे बहुत कुछ करना है, बहुत आगे जाना है। रिश्‍ते-नाते और करियर के बीच कहीं जिंदगी खत्‍म तो नहीं हो रही है। कैटरिना-सिद्धार्थ जैसे बड़े…
और पढ़ें »
आईना

इंटरनेट के दौर में दो पीढ़ियों के दो अलग-अलग युग

संगम पांडेय जो दर्शक वही-वही नाटक देख-देख कर ऊब चुके हों उन्हें निर्देशक सुरेश भारद्वाज की प्रस्तुति ‘वेलकम जिंदगी’ देखनी चाहिए। इसमें परिहास का पुट देते हुए आज के मध्यवर्गीय…
और पढ़ें »
आईना

दाना मांझी ने अपनी अनग की आख़िरी ख्वाहिश पूरी कर दी

धीरेंद्र पुंडीर दाना मांझी उड़िया के अलावा दूसरी कोई भाषा नहीं बोल पाता है। अनग देई तो अब कोई भी भाषा नहीं बोल पाएंगी। जिंदगी भर अनग देई और दाना…
और पढ़ें »
आईना

दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल का हाल-ए-बयां

विनोद कापड़ी एक बिस्तर पर चार-चार मरीज़। ICU के गलियारे में सॉंसो की आख़िरी आस। अस्पताल के ठीक अंदर मरीज़ के साथ CT Scan का इंतज़ार करती मोटरसाइकिल। मोबाइल फोन…
और पढ़ें »
आईना

अंधे बिल में फंस गया हूं…

पेरुमल मोरुगन की अंग्रेजी में पढ़ी एक कविता का हिन्दी अनुवाद देविंदर कौर उप्पल ने किया है। यह कविता अपने आपको ‘मृत’ घोषित करने के तीन माह बाद उन्होंने चुपचाप…
और पढ़ें »
आईना

भक्तों, भगवन की नज़रें सोशल मीडिया पर भी है!

मनीष कपूर पिछले कुछ दिनों से मेरे सपने में हर रोज भगवान आते हैं और एक ही बात कहते हैं- ‘तुम मेरा काम करो’। भगवान को देखते ही मेरी बोलती…
और पढ़ें »
आईना

कोसी- रेत की तरह मुट्ठी से फिसल जाता है मुआवजा

रूपेश कुमार फोटो- अजय कुमार कोसी बिहार 18 अगस्त ! इस दिन को याद करते ही कोसीवासियों के रोंगटे खड़े हो जाते हैं। आठ साल पहले इसी दिन तटबंधों के बीच…
और पढ़ें »
आईना

यात्रीगण, सीमांचल ‘सुपर-लेट’ का कोई टाइम टेबल नहीं है!

पुष्यमित्र चार अगस्त की रात 11 बजे पटना जंक्शन पर कुछ यात्री दिल्ली से आने वाली सीमांचल सुपरफास्ट एक्सप्रेस का इन्तज़ार कर रहे थे। एक डेढ़ घंटे बाद यह ट्रेन…
और पढ़ें »
आईना

भोर अलग है, शोर अलग है…

नीलू अग्रवाल फोटो- मधुरेंद्र कुमार, दिल्ली के चांदनी चौक में स्वतंत्रता दिवस पर जोश देखते ही बना। आज स्वतंत्रता दिवस की भोर अलग है हो रहा जो गलियों में शोर…
और पढ़ें »