सूखा है तो है, उन्हें तो सिर्फ सत्ता से मतलब है!

पुष्यमित्र / इन दिनों बिहार समेत लगभग पूरा देश भीषण सूखे का सामना कर रहा है, अगर 5-7 फीसदी लोगों

और पढ़ें >

बुंदेलखंड में बिन पानी सब सून !

समीर आत्मज मिश्रा के फेसबुक वॉल से अगले कुछ दिनों तक बुंदेलखंड में रहूंगा। इस इलाके में प्राकृतिक सुंदरता के

और पढ़ें >

छत्तीसगढ़ में अन्नदाता के मुआवजे में फिर बंदरबांट

शिरीष खरे अस्सी साल के जगदीश सोनी ने अपने तीन बेटों के साथ 15 एकड़ खेत में धान बोया, मगर

और पढ़ें >

गौर करो… वहां एक रोटी की किल्लत है!

आशीष सागर दीक्षित बाँदा सदर की ग्राम पंचायत जमालपुर में ‘ अन्नदाता की आखत ‘ अभियान के तहत सामाजिक कार्यकर्ताओं

और पढ़ें >

सात बरस बाद ‘मुंहबोले’ बाबा से मिलेंगे राहुल ?

सुनीता द्विवेदी क्या आपने कभी बुंदेलखंड में राहुल के गाँव के बारे में सुना है?  राहुल गांधी जो देश की

और पढ़ें >

बंज़र ज़मीन पर लहलहाएंगी उम्मीदें… चलते रहो साथी

योगेंद्र यादव के फेसबुक वॉल से सूखा महाराष्ट्र और यूपी ही नहीं बल्कि राजस्थान की धरती का सीना भी चीर

और पढ़ें >

‘बंजर जमीन’ पर उम्मीद की एक बूंद!

एपी यादव की रिपोर्ट भादो का महीना अपनी ढलान पर है, किसान आसमान में टकटकी लगाए बैठा है, धरती फटती

और पढ़ें >