Tag archives for शिक्षा

मेरा गांव, मेरा देश

काम पूरा लेंगे, लेकिन दाम अधूरा देंगे…वाह रे हमारी लोकतांत्रिक सरकार !

सुधांशु कुमार वर्षों की सुनवाई,  उसके दौरान शिक्षकों के प्रति जजों की पूरी सहानुभूति,  शिक्षकों के खून-पसीने की कमाई के करोड़ों रुपये वकीलों पर खर्च ! इन सबके बाद लगभग…
और पढ़ें »
गांव के नायक

संवैधानिक मूल्यों पर आधारित शिक्षा की ओर बढ़ते कदम

शिरीष खरे/ हर कक्षा में 'मूल्यवर्धन' की गतिविधियों को संचालित करने के लिए दो प्रकार की गतिविधि पुस्तिकाएं होती हैं। पहली पुस्तिका कक्षा के शिक्षक के लिए होती है। इसकी…
और पढ़ें »
सुन हो सरकार

शिक्षकों पर चादरपोशी की रस्म अदायगी कब तक?

डा. सुधांशु कुमार आज सवेरे-सवेरे श्रीमती जी ने एक प्रश्न प्रक्षेपित कर दिया -'सुना है शिक्षक दिवस के दिन आप सभी शिक्षक सरकार के द्वारा सम्मानित किए जाएंगे ? '…
और पढ़ें »
सुन हो सरकार

शिक्षा पर बाज़ार के कब्जे की स्वायत्‍तता

डॉक्टर गंगा सहाय मीणा देश के तमाम अच्‍छे डॉक्‍टर, इंजीनियर, प्रोफेसर, कुलपति, एकेडमिशियन, आलोचक, प्रशासनिक अधिकारी, वैज्ञानिक इसी देश के सरकारी उच्‍च शिक्षण संस्‍थानों से निकले हैं। संख्‍या में कम ही सही,…
और पढ़ें »
चौपाल

‘सुशासन बाबू का फ़ैसला गांधीद्रोह से कम नहीं’

पहली बार जिस खपरैल में गांधी का स्कूल शुरु हुआ था ब्रह्मानंद ठाकुर बिहार सरकार के एक फैसले को लेकर पिछले दिनों अखबारों में 'बुनियादी विद्यालयों को खत्म करने पर…
और पढ़ें »
आईना

बच्चे के रिपोर्ट कार्ड से पहले अपना रिपोर्ट कार्ड बनाएं!

जूली जयश्री बदलाव बाल क्लब की फाइल तस्वीर सावधान ! उपर वाला आपका वीडियो बना रहा है। आज कल सोशल मीडिया पर एक वीडियो तेजी से वायरल हो रहा है।…
और पढ़ें »
परब-त्योहार

जो समाज से लिया, वो कभी तो लौटा सकें हम

बदलाव प्रतिनिधि ग़ाजियाबाद के वैशाली में आज बदलाव के साथियों की कृषि क्षेत्र के कुछ शोधकर्ताओं के साथ मीटिंग हुई।आशुतोष कुमार, चंद्रेशखर सिंह और रूचा बिहार, उत्तरप्रदेश और महाराष्ट्र में…
और पढ़ें »

कामयाबी की खुशी तुमसे कैसे बांटू मेरे दोस्त रवि

पिता जगमोहन यादव, माता सुमनलता के साथ सिद्धार्थ यादव (बाएं) अरुण प्रकाश  देश के सबसे बड़े सूबे यानी उत्तर प्रदेश में इन दिनों अगर किसी की चर्चा है तो बस…
और पढ़ें »

इन हसीन वादियों में आधा आसमां मेरा भी है

शाहनवाज़ खान कश्मीर की वादियों में अब बेटियों का दम नहीं घुटेगा। घाटी की लाडलियों को खुली हवा में सांस लेने की पूरी आज़ादी रहेगी । धरती की जन्नत की…
और पढ़ें »

मुज़फ़्फ़रनगर की ‘भारत मां’

अश्विनी शर्मा मीणा मां के घर में पूरा 'हिंदुस्तान' जिस मुजफ्फरनगर में धर्म के नाम पर मारकाट मची। जब लोग हिंदू-मुस्लिम  के नाम पर मरकट रहे थे, मासूम बच्चों पर…
और पढ़ें »