Tag archives for राकेश कायस्थ

मेरा गांव, मेरा देश

ये मूर्खता के भूमंडलीकरण का दौर है !

राकेश कायस्थ/ पिछले पांच साल में इस देश में प्रति मिनट जितने शौचालय बने हैं, उन्हें अगर जोड़ा जाये तो शौचालयों की कुल संख्या शायद देश की आबादी से भी…
और पढ़ें »
चौपाल

सूरत अग्निकांड के बाद भी क्या हम कुछ नहीं सीखेंगे ?

राकेश कायस्थ सूरत अग्निकांड की तस्वीरें स्तब्ध कर देने वाली हैं। सुंदर भविष्य का सपना देख रहे 21 नौजवान जलकर खाक हो गये। मुझे पिछले साल दिसंबर में मुंबई के…
और पढ़ें »
मेरा गांव, मेरा देश

एग्ज़िट पोल और उसके मायने समझिए

राकेश कायस्थ साभार-ndtv 1. यह बहुत साफ था कि 2019 की लड़ाई अंकगणित बनाम केमेस्ट्री होगी। मतलब यह कि जितने भी बीजेपी विरोधी गठबंधन बने हैं, उनके वोट आप जोड़…
और पढ़ें »
बिहार/झारखंड

चुनाव कामरेड कन्हैया लड़ रहे हैं, भगवान परशुराम नहीं !

राकेश कायस्थ सोशल मीडिया पर सक्रियता के जो साइड इफेक्ट हैं, उनमें आपका ना चाहते हुए रियेक्रशनरी होना जाना भी शामिल है। आखिर ट्रेंड कर रहे हर मुद्धे पर आपका…
और पढ़ें »
गांव के नायक

चुनावी समर में शह-मात का खेल जारी है

राकेश कायस्थ क्या कांग्रेस की न्यूनतम आय योजना ने अचानक चुनावी विमर्श को बदल दिया है? कांग्रेस जिस तरह `आय पर चर्चा' जैसे कार्यक्रमों के साथ मैदान में उतरी है,…
और पढ़ें »
सुन हो सरकार

सिर्फ धारणाओं से देश नहीं चलता साहब !

राकेश कायस्थ क्या डर सिर्फ एक धारणा है? ठीक उसी तरह जिस तरह विकास एक धारणा है। धारणा यानी इंप्रेशन ये है कि विकास हो रहा है, इसलिए बहुत से…
और पढ़ें »
मेरा गांव, मेरा देश

वैशाखनंदन लिखो या शारदानंदन गालियां तो पड़ेंगी ही

राकेश कायस्थ सोशल मीडिया पर हंगामा ना हो फिर काहे का सोशल मीडिया। अगर शांति चाहते हैं तो कुछ समय के लिए फेसबुक और ट्विटर से दूर हो जाइये। अगर…
और पढ़ें »