Tag archives for बॉलीवुड

आईना

नन्हीं पीहू से प्यार और विनोद कापड़ी का पागलपन

विनोद कापड़ी फ़िल्म रिलीज़ होने में अब कुछ दिन बाक़ी हैं।अब पीहू फ़िल्म से जुड़ी कुछ कहानियाँ। सबसे पहले कैसे आया आइडिया और पहली बार कब मिली पीहू ?  …
और पढ़ें »
चौपाल

16 नवंबर को बड़े पर्दे पर नटखट पीहू का ‘विनोद’ और रोमांच

सत्येंद्र कुमार यादव 2016 की बात है । उस वक्त मेरा बेटा अथर्व करीब 2 साल का होगा। उसकी मां कुसुम बॉथरूम में थी और अथर्व ने खेल-खेल में बाहर…
और पढ़ें »
चौपाल

LIFE OF AN OUTCAST-गरीब का कोनो जात नहीं

किसलय झा दिल्ली में स्क्रीनिंग के दौरान रवि 29 मई 2018 की शाम। फिल्म्स डिविजन ऑडिटोरियम, महादेव रोड, नई दिल्ली में फिल्म “Life of An Outcast” का प्रीमियर था। फिल्म…
और पढ़ें »
आईना

दलितों का रोजमर्रा का संघर्ष -“लाइफ ऑफ एन आउटकास्ट ”

चित्रा अग्रवाल फिल्म लाइफ ऑफ एन आउटकास्ट का दृश्य मास कम्युनिकेशन की पढ़ाई करने वाले अच्छे से जानते हैं कि सिनेमा बस मनोरंजन नहीं बल्कि अपनी बात को जनमानस तक…
और पढ़ें »
आईना

वो ‘लम्हे’, ‘चांदनी’ यादें और ‘सदमा’

विकास मिश्रा 13 साल उम्र रही होगी, तब गांव में रेडियो ही मनोरंजन का पूर्ण साधन था। रेडियो सिलोन पर 'बिनाका गीतमाला' सबसे लोकप्रिय कार्यक्रम था। रात में ये प्रोग्राम…
और पढ़ें »
आईना

पद्मावत का नाम ‘खिलजावत’ क्यों न रखा ?

विकास मिश्र 'पद्मावत' देखकर लौटा हूं वो भी 3डी में। तीन घंटे लंबी इस फिल्म का नाम तो असल में 'खिलजावत' होना चाहिए था, क्योंकि पूरी फिल्म खिलजी के इर्दगिर्द…
और पढ़ें »
चौपाल

कुंदन शाह को ‘जाने भी दो यारों’

मयंक सक्सेना कुंदन शाह से दिल्ली में एक पत्रकार के तौर पर मिलना हुआ। पहली बार जब मिला था, तो छात्र था। दूसरी बार पत्रकार।ऑफ द रिकॉर्ड चाय पीते हुए, उनसे…
और पढ़ें »
आईना

काले लिबास वाला

महेश भट्ट, फिल्म निर्माता-निर्देशक काले कपड़े पहनने का शौक़ । सादगी पसंद, बेबाक़ी से अपनी राय रखना उनकी आदत । अपनी फ़िल्मों से लेकर उनके डायलॉग तक हर जगह उनकी…
और पढ़ें »
बिहार/झारखंड

पूर्णिया के ‘ड्रीम कैचर’ का सपना सच होने को है!

एपी यादव ड्रीम कैचर के निर्देशक संतोष शिवम, अभिनेता धर्मेंद्र के साथ आम इंसान हो या फिर खास, गरीब या फिर अमीर हर किसी में एक समानता जरूर होती है…
और पढ़ें »
आईना

कृष्ण से सम्मोहन वाला सितारा अब गगन में चमकेगा!

देवांशु झा ऐसा सितारा कभी-कभार चमकता है, जिसमें किसी हॉलीवुड हंक सी अदा हो, किसी आदर्श पौराणिक भारतीय चरित्र जैसा सुघड़ रूप हो, जो नायक और खलनायक दोनों ही किरदारों को…
और पढ़ें »
12