Tag archives for बदलाव

यूपी/उत्तराखंड

पहले हम पापा के साथ रहते थे, अब पापा हमारे साथ रहते हैं…

दयाशंकर आपके परिवार में कौन-कौन है. मैं पत्‍नी और दो बच्‍चे. अब परिवार का यह सामान्‍य परिचय हो गया है. हर कोई कुछ इसी तरह से अपने परिवार के बारे…
और पढ़ें »
बिहार/झारखंड

मधेपुरा में विश्व वरिष्ठ नागरिक दिवस पर बच्चों ने भावुक कर दिया

बदलाव प्रतिनिधि बदलाव और ढाई आखर फाउंडेशन की साझा पहल को मधेपुरा के वरिष्ठ पत्रकार और शिक्षा के क्षेत्र में प्रयोगधर्मी रुपेश कुमार ने आगे बढ़ाया। उन्होंने 'कल और आज-…
और पढ़ें »
गांव के रंग

बादशाह खान के प्रति

- अरुण कमल फोटो सौजन्य- अजय कुमार कोसी बिहार बुढ़ापे का मतलब है सुबह शाम खुली हवा में टहलना बूलना बुढ़ापे का मतलब ताजा सिंकी रोटियाँ शोरबे में डबो डबो…
और पढ़ें »
महानगर

पत्रकार कुमार नरेंद्र सिंह से खुली बातचीत आज

बदलाव टीम के साथियों के साथ 15 अप्रैल को रूबरू होंगे वरिष्ठ पत्रकार कुमार नरेंद्र सिंह। मार्च महीने से बदलाव ने वरिष्ठ पत्रकारों से मुलाकात और अनौपचारिक बातचीत का सिलसिला शुरू…
और पढ़ें »
अतिथि संपादक

अप्रैल माह के अतिथि संपादक होंगे संजय पंकज

जाने - माने साहित्यकार , कवि और लेखक डाक्टर संजय पंकज होंगे बदलाव के अप्रैल के अतिथि सम्पादक। मुजफ्फरपुर जिले के कटरा प्रखंड के ऐतिहासिक गांव वीरभूमि बेरई मे 5 …
और पढ़ें »
मेरा गांव, मेरा देश

माय वेलेंटाइन, माय विलेज…. बदलाव की नई मुहिम

टीम बदलाव  गाजियाबाद के वैशाली सेक्टर-6 में लंबे अरसे बाद 11 फरवरी की सुबह 10 बजे बदलाव की मीटिंग हुई। इस बैठक में कुछ साथियों ने व्हाट्स एप ग्रुप के…
और पढ़ें »

आओ कि कोई ख्वाब बुनें कल के वास्ते…

चंदन शर्मा जहां टॉयलेट में जंजीर से मग और बैंक में रस्सी से पेन बांध कर रखने की नौबत हो, उस देश में करप्शन क्या खाक खत्म होगा? यहां ईमानदार…
और पढ़ें »

जौनपुर के नेवादा गांव में बदलाव की पहली ‘चौपाल’

बिहार के मधेपुरा से शुरू हुआ बदलाव का सफर अब अपने अगले मुकाम की ओर बढ़ चला है। आप सभी के सहयोग से 'बदलाव' ने अब तक गांवों और वहां…
और पढ़ें »

‘बदलाव’ की ओर एक कदम और…

विनय स्मृति कार्यक्रम- वेबसाइट की घोषणा के दौरान मौजूद मधेपुरा के स्थानीय साथी मधेपुरा में विनय स्मृति कार्यक्रम के दौरान 'बदलेगा गांव, बदलेगा देश' के नारे के साथ बदलाव डॉट…
और पढ़ें »