वर्ल्ड थियेटर डे- हम सब के दिल में बसा है ‘नटकिया’

पशुपति शर्मा वर्ल्ड थियेटर डे। रंगमंच के उत्सव का एक दिन। वो उत्सवधर्मिता जो रंगकर्म में स्वत: अंतर्निहित है। यकीन

और पढ़ें >

बदलाव छात्रवृति योजना के लिए प्रस्ताव

शंभु झा दोस्तो,  समाज में सार्थक और सकारात्मक बदलाव के लिए वैल्यू एजुकेशन एक बुनियादी जरूरत है। लेकिन हमने विकास

और पढ़ें >

बच्चे के रिपोर्ट कार्ड से पहले अपना रिपोर्ट कार्ड बनाएं!

जूली जयश्री सावधान ! उपर वाला आपका वीडियो बना रहा है। आज कल सोशल मीडिया पर एक वीडियो तेजी से

और पढ़ें >

बड़ों की कविताएं-छंद, बच्चों के किस्से चंद

बदलाव प्रतिनिधि, ग़ाज़ियाबाद रविवार, 25 जून ,2017 को वैशाली, गाजियाबाद के सेंट्रल पार्क में “पेड़ों की छांव तले रचना पाठ”

और पढ़ें >

विनय की याद, बच्चों की किस्सागोई और हमारा संकल्प

ये वक्त अपने साथी विनय तरुण को याद करने का है। साथी को याद करते हुए हमने हमेशा उसके कर्मों

और पढ़ें >

जंक फूड के जाल में फंसा बचपन और ‘दुश्मन मां’!

विकास मिश्रा 8-9 साल की उम्र रही होगी, जब मैंने पहली बार पाव-रोटी खाई थी। चाय में डुबोकर जब मुंह

और पढ़ें >

चाँद मामा हंसुआ द

बदलाव प्रतिनिधि जैसे जैसे दिन बीतता जा रहा है..बदलाव बाल क्लब की कार्यशाली परवान चढ़ती जा रही है । मुजफ्फरपुर

और पढ़ें >

कल संवारना है तो आज सुन लो अच्छे किस्से

बदलाव प्रतिनिधि, मुजफ्फरपुर मुजफ्फरपुर जिले के सुदूर गांव पियर में बदलाव बाल क्लब की कहानी कार्यशाला शुरू हो गई। हिन्दी के

और पढ़ें >

मुजफ़्फ़रपुर के पियर गांव में भी किस्सों की कार्यशाला

सर्बानी शर्मा ‘आओ पढ़ें, सुनें और सुनाएं किस्से’, बदलाव बाल क्लब की वर्कशॉप अब एक मुहिम का हिस्सा बनती जा

और पढ़ें >

स्कूल की छुट्टी

बदलाव बाल क्लब की कार्यशाला फिलहाल गाजियाबाद के वैशाली में हर दिन शाम 7 बजे लग रही है। बच्चे हर

और पढ़ें >