Tag archives for नोटबंदी

चौपाल

पैराडाइज पेपर्स: यहां सत्ता का झगड़ा नहीं है, सब शून्य में समाहित हैं!

इंडियन एक्सप्रेस ने नोटबंदी डे से पहले किया बड़ा खुलासा । कर-स्वर्ग के स्वामियों को धरती के अज्ञानियों का एक पैग़ाम । कर के स्वर्गलोक का खुफिया तोरण द्वार सज़ा…
और पढ़ें »
सुन हो सरकार

मोहलत… थोड़ी है, थोड़े की जरूरत है!

टीम बदलाव हिंदुस्तान की जनता 50 दिन बाद भी कतार में खड़ी है । प्रधानमंत्री मोदी ने वादा किया था कि 50 दिन का वक्त दीजिए भ्रष्टाटार, आतंकवाद, कालाधन खत्म…
और पढ़ें »
चौपाल

काले धन पर बड़ी मुहिम का ‘लीकेज’ बंद करें वित्त मंत्रीजी

अभया श्रीवास्तव नोटबंदी से बड़ी उम्मीदें हैं। लोग आमतौर पर खुश हैं। इस आस में कि कालेधन पर नकेल कसेगी। टेरर फंडिग पर रोक लगेगी। पुराने नोटों का नए नोटों…
और पढ़ें »
बिहार/झारखंड

नोटबंदी की ‘सियासी मंडी’ में अन्नदाता की सुध किसे ?

ब्रह्मानंद ठाकुर  किसानों के खून-पसीने से उपजाई गयी फसल जब कौडियों के मोल बिकने लगे तो उनका दर्द समझना सब के लिए आसान नहीं होता। कभी-कभी जीवन में बहुत कुछ…
और पढ़ें »
आईना

‘100 टके’ के सुकून का सवाल है साहब !

विकास मिश्रा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का निर्णय साहसिक है। देशहित में है, इसमें किसी को कोई शक नहीं है। उनके इस एक फैसले ने ब्लैक मनी वालों की नींद उड़ा…
और पढ़ें »
चौपाल

हताशा और ग़ुस्से पर पर्देदारी कब तक?

मधुरेंद्र कुमार सवाल नोटबंदी पर नहीं बल्कि नोट की उपलबध्ता को लेकर है। अव्यवस्था का आलम अराजकता को निमंत्रण देने लगा है। बैंक से लेकर एटीएम तक घंटों दिन रात वक़्त…
और पढ़ें »
यूपी/उत्तराखंड

कतार में खड़े हो समझते रहिए बट्टा खाते का गणित

फोटो- नरेंद्र देव ।अंबेडकरनगर । सुबह बजे लाइन में खेड़ लोग आशीष सागर नोटबंदी के बाद से तो ऐसा लग रहा है जैसे शहर और गांव की दूरियां मिट गईं।…
और पढ़ें »
माटी की खुशबू

‘सर्जरी’ आपने की, दर्द की शिकायत किससे करें?

बैंक के सामने कैश के लिए खड़े ग्रामीण । फोटो- अनिल यादव सत्येंद्र कुमार यादव ये तस्वीर यूपी के देवरिया के लार क्षेत्र की है । नोटबंदी के बाद से…
और पढ़ें »
चौपाल

कतार में पीएम की मां के अपने-अपने मायने

उर्मिलेश (फेसबुक वॉल से) प्रधानमंत्री मोदी के प्रशंसकों को मुझसे शिकायत नहीं होनी चाहिये। प्रधानमंत्री जी के कतिपय गुणों को मैं भी स्वीकार करता हूं। भारत की दक्षिणपंथी और हिन्दुत्ववादी…
और पढ़ें »