Tag archives for नोटक्रांति

मेरा गांव, मेरा देश

पीएम साहब, सलाहकारों की फौज को भी परख लीजिए

धीरेंद्र पुंडीर फिर से एक छूट। काला धन रखने वालों को एक बार फिर से छूट। लगता है साहेब काफी दिल वाले हैं। दिल दुखता है, लेकिन दुआ हमेशा उन्हीं…
और पढ़ें »
चौपाल

हताशा और ग़ुस्से पर पर्देदारी कब तक?

मधुरेंद्र कुमार सवाल नोटबंदी पर नहीं बल्कि नोट की उपलबध्ता को लेकर है। अव्यवस्था का आलम अराजकता को निमंत्रण देने लगा है। बैंक से लेकर एटीएम तक घंटों दिन रात वक़्त…
और पढ़ें »
चौपाल

कतार में पीएम की मां के अपने-अपने मायने

उर्मिलेश (फेसबुक वॉल से) प्रधानमंत्री मोदी के प्रशंसकों को मुझसे शिकायत नहीं होनी चाहिये। प्रधानमंत्री जी के कतिपय गुणों को मैं भी स्वीकार करता हूं। भारत की दक्षिणपंथी और हिन्दुत्ववादी…
और पढ़ें »
चौपाल

नए नोट के ‘रण’ में पूरी तैयारी से जाएं

राकेश कायस्थ आज सुबह मेरी पत्नी ने मुझे विजयी भव: वाले उसी अंदाज़ में घर से भेजा जैसै पुराने जमाने में रणभूमि पर जा रहे योद्धाओं को भेजा जाता था।…
और पढ़ें »