Tag archives for दांडी यात्रा

चौपाल

दांडी बंगला और डाक बंगले का फ़र्क मिटने को है!

धीरेंद्र पुंडीर "नाम क्या है इसका।" एक वीरान से पड़े बंगले के अंदर खड़े होकर मैंने बंगले में बैठे उस युवा से पूछा। एक शर्माती सी मुस्कुराहट के साथ अशोक ने…
और पढ़ें »
मेरा गांव, मेरा देश

पारदर्शी कैबिनेट में गांधी का चरखा और समय का चक्र

धीरेंद्र पुंडीर “ अगर हमने गांधी को विश्व की शांति के लिए एक मसीहा के रूप में जन-मन तक स्थिर करने में सफलता पाई होती तो United Nations का General…
और पढ़ें »
चौपाल

गांधी के 3 बंदर गायब हो गए… और उनके मंत्र?

धीरेंद्र पुंडीर ये तो गांधी जी की सत्याग्रह की जगह है जहां से गांधी जी ने सत्याग्रह किया है। वहां पर छुआछूत रख रहे तो पूरे भारत का क्या हाल…
और पढ़ें »
मेरा गांव, मेरा देश

गुजरात में गांधी के मायने समझने की एक कोशिश

धीरेंद्र पुंडीर गुजरात में दांडी यात्रा के बाद दिल्ली के रास्ते में आते वक्त सोच रहा था कि दांडी यात्रा में मैंने क्या हासिल किया। साबरमती आश्रम की ओढ़ी हुई…
और पढ़ें »
आईना

अपने शहर में अजनबी गांधी

धीरेंद्र पुंडीर गांधी जी की यात्रा एक मानव के महामानव बनने की यात्रा है। आप उनसे सहमत या असहमत हो सकते हैं। गांधी जी के एक प्रयोग दांडी की यात्रा से…
और पढ़ें »