Tag archives for एक दिन का मेहमान

परब-त्योहार

‘एक दिन के मेहमान’ के मेजबानों का शुक्रिया

पशुपति शर्मा   अभिनेता, नाटकों के बाद हमेशा आत्ममुग्ध हो जाया करते हैं। कभी-कभी मैं भी इसका शिकार हो जाता हूं। लेकिन मुझे इसका बखूबी एहसास है कि रंगमंच एक…
और पढ़ें »
परब-त्योहार

जब पिता मेहमान बनकर अपने ही घर पहुंचा

प्रतिभा ज्योति 'एक दिन का मेहमान' जैसे ही घर आता है, तनाव पसर जाता है. घर की बच्ची चुपचाप है और घर की औरत दूसरे फ्लोर पर अपने कमरे में…
और पढ़ें »
माटी की खुशबू

वर्ल्ड थियेटर डे- हम सब के दिल में बसा है ‘नटकिया’

पशुपति शर्मा वर्ल्ड थियेटर डे। रंगमंच के उत्सव का एक दिन। वो उत्सवधर्मिता जो रंगकर्म में स्वत: अंतर्निहित है। यकीन न हो तो किसी रंगकर्मी से पूछ कर देख लें।…
और पढ़ें »

पटना के रंगमंच पर ‘मेहमान’ की ‘दस्तक’

दस्तक की प्रस्तुति एक दिन का मेहमान । बदलाव प्रतिनिधि निर्मल वर्मा की कहानियों को मंच पर उतारना आसान नहीं है। मगर पटना के प्रेमचंद रंगशाला में निर्देशक सदानंद पाटिल…
और पढ़ें »