टीम बदलाव

20 नवंबर को इंडिया न्यूज़ के साथ निखिल दुबे ने बतौर एग्जीक्यूटिव एडिटर अपनी नई पारी की शुरुआत कर सबको हैरत में डाल दिया । उन्हें आउटपुट की कमान सौंपी गई है। ख़बरों की दुनिया में निखिल दुबे काफी जाना-माना और भरोसेमंद नाम है। ऐसा माना जाता है कि निखिल दुबे नए  प्रयोगों में यकीन रखते हैं। साथ ही नये प्रोग्राम लॉन्च करने का रिस्क भी खूब उठाते हैं । ऐसे में देखना होगा कि ख़बरों के ये धुरंधर साथ मिलकर इंडिया न्यूज़ को टीआरपी की दौड़ में कितने आगे तक ले जा पाते हैं ।

निखिल दुबे उत्तर प्रदेश के फतेहपुर जिले के मूल निवासी हैं। निखिल दुबे की शुरुआती शिक्षा-दीक्षा फतेहपुर में हुई। उसके बाद उन्होंने 1989 में GIC इलाहाबाद से इंटरमीडिएट की पढ़ाई पूरी की और फिर इलाहाबाद यूनिवर्सिटी में दाखिला लिया। इलाहाबाद यूनिवर्सिटी से निखिल जी ने बीए/LLB की पढ़ाई की। निखिल दुबे का साहित्य और प्रकृति से गहरा लगाव रहा है। उनको जब भी फुरसत मिलती है तो अपने आस-पास प्रकृति से संवाद स्थापित करने का कोई ना कोई जरिया तलाश ही लेते हैं । साहित्य से उनका लगाव इलाहाबाद में रहते हुए ही हो गया था। हालांकि इलाहाबाद यूनिवर्सिटी से पढ़ाई पूरी करने के बाद निखिल दुबे ने दिल्ली का रुख किया और साल 2002 में दिल्ली यूनिवर्सिटी से मॉस कॉम किया।

साल 2003 में सहारा समय से अपने करियर की शुरुआत करने वाले निखिल दुबे पिछले डेढ़ दशक में देश के तमाम प्रतिष्ठित संस्थानों में काम कर चुके हैं। आजतक, एबीपी न्यूज, जी न्यूज़, इंडिया टीवी, न्यूज 24, न्यूज़ एक्सप्रेस जैसे संस्थानों से जुड़े रहे, लेकिन काम हमेशा अपनी शर्तों पर किया। जब भी कभी उनके ऊपर खबरों से समझौते का दबाव रहा, उन्होंने संस्थान को अलविदा कहने में देर नहीं की। यही वजह है कि आज मीडिया जगत में खासकर आउटपुट एडिटर्स की फेहरिस्त में निखिल दुबे का नाम काफी ऊपर है। निखिल दुबे की सबसे खास बात ये है कि वो टीम को साथ लेकर काम करने की कला में माहिर हैं।

संबंधित समाचार