उत्तर प्रदेश के देवरिया जनपद के बरहज में घाघरा नदी ने अपना रौद्र रूप दिखाना शुरू कर दिया है।

बाढ़ में कहीं वोट ना बह जाए इसलिए राजनीतिक पार्टियां बाढ़ ग्रस्त इलाको में दौरा कर स्थिति का जायजा ले रहीं हैं। इसके लिए बाकायदा हर जिलों में एक कमेटी बनाई गई है जो बाढ़ की स्थिति से आलाकमान को अवगत कराएगी। पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने भी अपनी एक कमेटी गठित कर बाढ़ क्षेत्रों का दौरा करने के लिए भेजा था। SP के पी डी तिवारी ने बाढ़ प्रभावित इलाकों के लोगों से मुलाक़ात कर उनका हाल जाना। सभी दलों की टीम बाढ़ प्रभावित इलाकों का दौरा कर रही हैं। इस क्षेत्र में भदिला प्रथम गांव की हालत सबसे ख़राब है।

घाघरा नदी की तेजधारा ने फसलों को अपने आगोश में ले लिया और अब गांव को आगोश में लेने को आतुर है ।

प्रदीप श्रीवास्तव, वरिष्ठ पत्रकार, देवरिया