गाजीपुर के ज्वाइंट मजिस्ट्रेट रवि प्रताप यादव।

2015 बैच के यूपी कैडर के आईएएस अधिकारियों को ज्वाइंट मजिस्ट्रेट पद पर नियुक्ति के आदेश जारी किए गए हैं। रविप्रताप यादव को गाजीपुर, अरविंद सिंह को जौनपुर और आलोक यादव को संतकबीर नगर में तैनात किया गया है। योगी सरकार ने अधिकारियों को जनता की उम्मीद के मुताबिक काम करने की नसीहत दी है। सीएम योगी सरकारी अधिकारियों से रिजल्ट चाहते हैं, ऐसे में अधिकारियों की युवा फौज से काफी उम्मीदें हैं।

अजय कुमार द्विवेदी को बाराबंकी, अमनदीप डूली को बस्ती, अनुनाया झा को झांसी और अरविंद कुमार चौहान को मिर्जापुर के ज्वाइंट मजिस्ट्रेट की जिम्मेदारी दी गई है। हाल के दिनों में लॉ एंड ऑर्डर को लेकर यूपी सरकार पर सवाल उठते रहे हैं। ऐसे में युवा टीम के सामने भी चुनौतियां कम नहीं होगी। युवा अधिकारियों में आशीष कुमार को बागपत, अस्मिता लाल मुरादाबाद, सुश्री निशा मेरठ, निधि गुप्ता लखनऊ और जे रीभा इलाहाबाद में ज्वाइंट मजिस्ट्रेट की जिम्मेदारी संभालेंगे। लंबे संघर्ष के बाद प्रशासनिक सेवा में आई इस टीम का जज्बा जनसेवा का है। अगर ईमानदारी के साथ टीम ने जनता के साथ संवाद बनाया और शासन में भरोसा कायम किया तो निश्चित तौर पर ये एक अच्छी शुरुआत होगी।