पुष्य मित्र 

अब वक्त आ गया है जब हम मिशन चमकी पार्ट-2 का आगाज करें । हम इस साल बीमार हुए 600 से अधिक चमकी बुखार पीड़ित बच्चों के घर जायेंगे और उनसे बातचीत करेंगे। यह सर्वे तो होगा, मगर हम इन पीड़ितों को महज आँकड़ों में नहीं बदलेंगे। हम कोशिश करेंगे कि हर पीड़ित परिवार की अपनी कहानी सामने आये। इसके लिये उनसे हुई बातचीत को हम वीडियो रिकॉर्ड करने और उसे कहीं पोस्ट करने की कोशिश करेंगे।

हमारी मूल चिंता यह है कि जिन बच्चों का निधन हो गया उन्हें मुआवजा मिला या नहीं और जो बच गये, जिन्होंने मौत को चकमा दे दिया वे किस हाल में हैं, उन्हें किसी दूसरी स्वास्थ्य सम्बंधी समस्या ने तो नहीं घेर लिया। इसके अलावा उनकी सामाजिक स्थिति और कुपोषण के मसले पर तो बात होगी ही साथ ही उनसे बातचीत कर हम सरकारी इन्तजाम को भी समझने की कोशिश करेंगे। हमें सबसे अच्छी बात यह लग रही है कि यह पूरा सर्वे जनता के, आपके पैसों से होगा। ऐसे सर्वे नहीं के बराबर होते हैं।

 प्रश्नावली तैयार हो रही है, बहुत मुमकिन है, 8 जुलाई से यह काम शुरू हो जाये।हमें साथी चाहिये। 20 से 25। हमारे पुराने साथियों में से 10-12 तैयार हुए हैं। अगर कोई और इस काम में साथ आना चाहता है तो स्वागत है। रहने-खाने, आने-जाने का इन्तजाम होगा और अगर पैसे बच गये, जिसकी उम्मीद है, तो साथियों को कुछ मेहनतना भी देने की कोशिश रहेगी।

अगर आप इच्छुक हैं तो मुझे, Somu Anand को, या Satyam Kumar Jha को इनबॉक्स में सूचित करें।