Archives for यूपी/उत्तराखंड

यूपी/उत्तराखंड

गरीब उद्यमियों के सपनों के साथ ‘न्याय’ कीजिए

निखिल कुमार दुबे के फेसबुक वॉल से साभार अर्थशास्त्र मेरा विषय नहीं है।नोबल प्राप्त एक्सपर्ट पर कॉमेंट करूँ इतना ज्ञान भी नहीं है,पर एक सामाजिक अनुभव है। अपने छोटे से…
और पढ़ें »
मेरा गांव, मेरा देश

प्रतिस्पर्धा की सभ्यता ने खत्म कर दी सहयोग की भावना

ब्रह्मानंद ठाकुर जाने - माने समाजवादी चिंतक सच्चिदानन्द सिन्हा की पुस्तक ' गांधी और व्यावहारिक अराजकवाद ' की शृंखला की तीसरी कड़ी में  गांधी और  कतिपय अराजकवादी विचारकों के वैचारिक द्वन्द्व…
और पढ़ें »
मेरा गांव, मेरा देश

पढ़ने-पढ़ाने के प्रयोग और गांधी

गांधी जी ने  1910  में दक्षिण अफ्रीका में टालस्टाय आश्रम की  स्थापना की थी। यह आश्रम डरबन से 21 मील दूर था। आश्रम में उनके साथ हिंदू, मुसलमान, ईसाई और…
और पढ़ें »
गांव के रंग

‘आप लोग जैसी हिंदी बोलते हैं उसमें बहुत दोष है’

आज से करीब 30-35 साल पहले की बात है । मैं एक स्कूल में बतौर शिक्षक कार्यरत था ।  घर से 12 किलोमीटर  की दूरी साइकिल से तय करने के बाद…
और पढ़ें »
गांव के रंग

रचना प्रक्रिया का ‘अधूरा साक्षात्कार’

पशुपति शर्मा बंसी कौल, रंग निर्देशक 23 जुलाई को ग्रेटर नोएडा में बंसी दा से एक और मुलाकात। कमरे में बिस्तर पर लेटी माताजी और बाहर सोफे पर बैठे बेचैन…
और पढ़ें »
यूपी/उत्तराखंड

बाढ़ प्रभावित लोग नेताओं को नहीं डीएम को घेरें

पुष्यमित्र जिस तरह चमकी बुखार के वक़्त वैशाली में लोगों ने सांसद को घेरा था, उसी तरह कल झंझारपुर में आक्रोशित लोगों ने नवनिर्वाचित सांसद को घेर लिया। भीषण आपदा…
और पढ़ें »
मेरा गांव, मेरा देश

जीरो बजट खेती और सरकारी सोच

पुष्यमित्र/बही खाता वालों ने किसानों से जीरो बजट खेती करने कहा है। उन्हें क्या जीरो बजट का हिन्दी नहीं मिला? और कुछ नहीं तो 'शून्य बही खाता' ही कर देते।…
और पढ़ें »
मेरा गांव, मेरा देश

वित्त मंत्री के बजट भाषण की प्रमुख बातें

देश का हर व्यक्ति बदलाव महसूस कर रहा है हमने अपनी योजनाओं पर अमल किया मुद्रा लोन के जरिए लोगों का जीवन बदला वर्तमान में दुनिया की छठी सबसे बड़ी…
और पढ़ें »
मेरा गांव, मेरा देश

मुजफ्फरपुर के गांवों में हमारे साथी पहुंचा रहे जरूरी सामग्री

पुष्य मित्र मंगलवार को हमारी टीम मुजफ्फरपुर में कांटी के हरिदासपुर, छत्तरपट्टी गाँव में थी।लोगों को जरूरी सूचना के साथ-साथ ग्लूकोज, ओआरएस और थर्मामीटर भी दिया गया है। कुल 200…
और पढ़ें »
मेरा गांव, मेरा देश

राजनीति के डगर पर हर कदम मुश्किल इम्तिहान होते हैं

राकेश कायस्थ खबर है कि राहुल गांधी इस्तीफा देना चाहते हैं। मुझे समझ में नहीं आया कि किसे देना चाहते हैं और क्यों देना चाहते हैं? अगर मीडिया रिपोर्ट्स पर…
और पढ़ें »