Archives for यूपी/उत्तराखंड

यूपी/उत्तराखंड

नोएडा एक्सटेंशन के पतवाड़ी धाम में ‘मां की रसोई’ जल्द- टीकम सिंह

नवदुर्गा मंदिर, पतवाड़ी नोएडा एक्सटेंशन यानी एक ऐसा शहर जहां आपको सब कुछ नया ही नजर आएगा। धूल और धुंध से घिरी ऊंची-ऊंची इमारतें दिखाई देंगी। कुछ इमारतें अभी बन…
और पढ़ें »
यूपी/उत्तराखंड

‘अर्जुन’ की याद दिलाता है तीरंदाज आर्यमन

बदलाव प्रतिनिधि आर्यमन- चिड़ियां की आंख पर निशाना आर्यमन वर्मा। 13 साल के इस नए तीरंदाज का नाम भले मम्मी-पापा ने आर्यमन रखा हो लेकिन इसकी पहचान ' नन्हे अर्जुन'…
और पढ़ें »
यूपी/उत्तराखंड

जीवन संवाद- देश को ‘हज़ार-हज़ार दयाशंकर’ चाहिए

पशुपति शर्मा के फेसबुक वॉल से साभार जीवन संवाद। दयाशंकर मिश्र की पुस्तक। 5 जनवरी, 2020 की शाम इस पुस्तक के विमोचन समारोह में शरीक होने के लिए घर से…
और पढ़ें »
मेरा गांव, मेरा देश

शिक्षा का बाजारीकरण एक डरपोक, अवसरवादी और भ्रष्ट समाज पैदा करता है!

पुष्य मित्र JNU छात्रों के आन्दोलन के बीच कुछ लोग IIT-IIM का जिक्र लेकर आ गये हैं कि वहां की फीस तो JNU के मुकाबले कई सौ गुना अधिक है,…
और पढ़ें »
यूपी/उत्तराखंड

गरीब उद्यमियों के सपनों के साथ ‘न्याय’ कीजिए

निखिल कुमार दुबे के फेसबुक वॉल से साभार अर्थशास्त्र मेरा विषय नहीं है।नोबल प्राप्त एक्सपर्ट पर कॉमेंट करूँ इतना ज्ञान भी नहीं है,पर एक सामाजिक अनुभव है। अपने छोटे से…
और पढ़ें »
मेरा गांव, मेरा देश

प्रतिस्पर्धा की सभ्यता ने खत्म कर दी सहयोग की भावना

ब्रह्मानंद ठाकुर जाने - माने समाजवादी चिंतक सच्चिदानन्द सिन्हा की पुस्तक ' गांधी और व्यावहारिक अराजकवाद ' की शृंखला की तीसरी कड़ी में  गांधी और  कतिपय अराजकवादी विचारकों के वैचारिक द्वन्द्व…
और पढ़ें »
मेरा गांव, मेरा देश

पढ़ने-पढ़ाने के प्रयोग और गांधी

गांधी जी ने  1910  में दक्षिण अफ्रीका में टालस्टाय आश्रम की  स्थापना की थी। यह आश्रम डरबन से 21 मील दूर था। आश्रम में उनके साथ हिंदू, मुसलमान, ईसाई और…
और पढ़ें »
गांव के रंग

‘आप लोग जैसी हिंदी बोलते हैं उसमें बहुत दोष है’

आज से करीब 30-35 साल पहले की बात है । मैं एक स्कूल में बतौर शिक्षक कार्यरत था ।  घर से 12 किलोमीटर  की दूरी साइकिल से तय करने के बाद…
और पढ़ें »
गांव के रंग

रचना प्रक्रिया का ‘अधूरा साक्षात्कार’

पशुपति शर्मा बंसी कौल, रंग निर्देशक 23 जुलाई को ग्रेटर नोएडा में बंसी दा से एक और मुलाकात। कमरे में बिस्तर पर लेटी माताजी और बाहर सोफे पर बैठे बेचैन…
और पढ़ें »
यूपी/उत्तराखंड

बाढ़ प्रभावित लोग नेताओं को नहीं डीएम को घेरें

पुष्यमित्र जिस तरह चमकी बुखार के वक़्त वैशाली में लोगों ने सांसद को घेरा था, उसी तरह कल झंझारपुर में आक्रोशित लोगों ने नवनिर्वाचित सांसद को घेर लिया। भीषण आपदा…
और पढ़ें »