Archives for सुन हो सरकार - Page 3

सुन हो सरकार

भाई का शव हिंदुस्तान लाने के लिए दिल्ली में भटक रहा है फौजी

एस के यादव देश में नौकरी नहीं मिलने पर अक्सर घर की माली हालत सुधारने के लिए गांव के नौजवान दुबई, सऊदी अरब, मलेशिया जैसे देशों की ओर रुख करते…
और पढ़ें »
मेरा गांव, मेरा देश

सर आपकी बात तो ठीक है… लेकिन कब तक ऐसा चलता रहेगा ?

एस के यादव सर आपकी बात तो ठीक है... लेकिन कब तक ऐसा चलता रहेगा ? ये सवाल वरिष्ठ पत्रकार ऋचा अनिरुद्ध ने उस वक्त उठाया जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी…
और पढ़ें »
माटी की खुशबू

फावड़े वाली जाटनी देख बड़ा गर्व होता है!

श्याम सुंदर ज्याणी फेसबुक पोस्ट, 11 जुलाई 2017। जाट को धरतीपुत्र इसलिए कहा जाता है क्योंकि जाट-जाटनी कंधे से कंधा मिलाकर धरती माँ से अन्न उपजाते हैं। पेड़ और पर्यावरण…
और पढ़ें »
बिहार/झारखंड

दाल उत्पादन में आत्म निर्भर होने का फॉर्मूला क्या है?

दलहनी फसलों का उत्पादन न केवल बिहार बल्कि पूरे देश की एक गम्भीर समस्या है। सरकार के लाख प्रयास के बावजूद देश दाल के उत्पादन के मामले में अब तक …
और पढ़ें »
मेरा गांव, मेरा देश

भीड़ की हिंसा पर लीपापोती करना देश के लिए घातक

बदलाव प्रतिनिधि पश्चिम बंगाल के उत्तर 24 परगना जिले में साम्प्रदायिक हिंसा के बाद काफी तनाव है। ये सारा विवाद फेसबुक पर एक कथित पोस्ट को लेकर हुआ है। बशीरहाट…
और पढ़ें »
मेरा गांव, मेरा देश

इंदिरा दुर्गा और नेहरू खलनायक क्यों ?

राकेश कायस्थ देश के इतिहास में संघियों के पिटने और जेल जाने का अगर कोई वाकया है तो वह सिर्फ इमरजेंसी के दौर का है। लिखित माफी की भी कुछ…
और पढ़ें »
सुन हो सरकार

ऐ पटना, चंचल ने छोड़ दिया तेरा हर ‘मोहल्ला’

पुष्यमित्र एसिड हमले की शिकार चंचल पासवान नहीं रही। एक खबर मेरे लिए किसी झटके से कम नहीं थी। वैसे तो पिछले दो साल में बिहार के एसिड हमले की शिकार…
और पढ़ें »
परब-त्योहार

मीडिया का राष्ट्रवाद ‘पनछुछुर’ है- विनीत कुमार

एम अखलाक कारोबारी मीडिया का राष्ट्रवाद पनछुछुर है। इसका राष्ट्रवाद आर्थिक गलियारों से होकर गुजरता है। इस राष्ट्रवाद में मुगालते और गलतफहमियां हैं। इस पनछुछुर राष्ट्रवाद को फिर से परिभाषित…
और पढ़ें »
आईना

प्रीति तालीम से बदलना चाहती हैं महिलाओं की तकदीर

प्रीति हुड्डा, UPSC परीक्षा में 288वां स्थान। एस के यादव JNU को लेकर पिछले तीन साल से तरह तरह की अफवाहें सुर्खियों में रही वहीं उसके पॉजेटिव पक्ष की अनदेखी…
और पढ़ें »
मेरा गांव, मेरा देश

मंदसौर के ‘गोली’ वाले गुनहगार कौन?

विश्व दीपक मंदसौर में बिना किसी उकसावे के सीआरपीएफ ने किसानों पर गोली चलाई। ये बात मध्यप्रदेश में छिपे किसान नेता शिवकुमार ने बताई।  उन्होंने कहा कि फायरिंग में 6…
और पढ़ें »