Archives for सुन हो सरकार - Page 2

गांव के रंग

हक लिए आपको लड़ना ही होगा

पुष्यमित्र पारिवारिक वजहों से लगभग आधा अगस्त महीना सहरसा आते-जाते गुजरा। इस दौरान मैने महसूस किया कि सड़क मार्ग से सहरसा से मधेपुरा जाने में ठीक-ठाक हिम्मती लोग भी घबरा…
और पढ़ें »
मेरा गांव, मेरा देश

कश्मीर और संघ के वैचारिक परिप्रेक्ष्य को समझिए

फाइल फोटो दिवाकर मुक्तिबोध 5 अगस्त 2019 को भारतीय जनता पार्टी सरकैर ने संवैधानिक प्रक्रियाओं को धता बताते हुए जम्मू और कश्मीर राज्य को विशेष दर्जा देने वाले आर्टिकल 370…
और पढ़ें »
मेरा गांव, मेरा देश

समाज को अज्ञानता और असहिष्णुता के आनंदलोक की ओर ढकेलता हमारा मीडिया

उर्मिलेश जी के फेसबुक वॉल से साभार अपने देश के उत्तर और मध्य क्षेत्र में पत्रकारिता, खासतौर पर न्यूज चैनलों का जो हाल है, उससे समाज का बड़ा हिस्सा बुरी…
और पढ़ें »
गांव के नायक

गोवा के सरकारी स्कूल और मानवीय मूल्य

शिरीष खरे इन दिनों में रिसर्च के कामम से गोवा भ्रमण पर हूं और खासकर ग्रामीण परिवेश और स्कूलो के बदलते स्वरूप को देखने का मौका मिल रहा है, यकीन…
और पढ़ें »
मेरा गांव, मेरा देश

पहाड़ों की दास्तां बयां करते ‘जंगली फूल’ को अयोध्या प्रसाद खत्री सम्मान

ब्रह्मानंद ठाकुर इस बार अयोध्या प्रसाद खत्री स्मृति सम्मान अरुणाचल प्रदेश की नवोदित कथा लेखिका जोराम यालाम को  उनके उपन्यास 'जंगली फूल' के लिए  दिया जाएगा। इस सम्मान के लिए…
और पढ़ें »
यूपी/उत्तराखंड

बाढ़ प्रभावित लोग नेताओं को नहीं डीएम को घेरें

पुष्यमित्र जिस तरह चमकी बुखार के वक़्त वैशाली में लोगों ने सांसद को घेरा था, उसी तरह कल झंझारपुर में आक्रोशित लोगों ने नवनिर्वाचित सांसद को घेर लिया। भीषण आपदा…
और पढ़ें »
मेरा गांव, मेरा देश

जीरो बजट खेती और सरकारी सोच

पुष्यमित्र/बही खाता वालों ने किसानों से जीरो बजट खेती करने कहा है। उन्हें क्या जीरो बजट का हिन्दी नहीं मिला? और कुछ नहीं तो 'शून्य बही खाता' ही कर देते।…
और पढ़ें »
सुन हो सरकार

सत्ता जानती है पत्रकार की औकात क्या है ?

पुष्य मित्रपिछ्ले साल का वाकया है। एक बड़े मीडिया हाउस से मुझे फोन आया कि वे चाहते हैं कि मैं उनके नए वेन्चर का रीजनल हेड(पूर्वी जोन) बन जाऊं, इसलिये…
और पढ़ें »
सुन हो सरकार

चमकी की मार से उबर चुके बच्चों को जीवनभर सता सकता है ये बुखार

फाइल फोटो पुष्यमित्र मानसून की पहली बारिश होते ही बिहार में पिछले 20 दिनों से जारी चमकी बुखार का प्रकोप कुछ कम हुआ है। बीते चौबीस घंटे में मुजफ्फरपुर के…
और पढ़ें »
मेरा गांव, मेरा देश

‘चमकी’ से लड़ने गांव-गांव तक पहुंच रहे ‘देवदूत

ब्रह्मानंद ठाकुर चमकी बुखार  की बीमारी गरीब महादलित परिवार के बच्चों के लिए इस बार काल बन  कर आई है। मुजफ्फरपुर जिले के गांवों में अबतक इस बीमारी से 150…
और पढ़ें »