Archives for सुन हो सरकार

खेती-बाड़ी

बाढ़ प्रभावित किसानों के लिए बड़ा गिफ्ट… फिलिपींस से खुशहाली की ख़बर

फोटो साभार- प्रभात ख़बर तीन हफ्ते लंबी बाढ़ को भी मात दे रही है धान की यह नयी वेराइटी. बिहार के सीतामढ़ी जिले के रुन्नीसैदपुर प्रखंड के तिलक ताजपुर गांव…
और पढ़ें »
सुन हो सरकार

मोदी के मंत्री के ‘घर’ में कूड़ा फेंकने की योजना… सड़क पर उतरी जनता

पीएम मोदी पूरे देश में स्वच्छता अभियान चला रहे हैं । यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ भी पीएम मोदी के अभियान को आगे बढ़ा रहे हैं । ताजमहल से तालकटोरा…
और पढ़ें »
खेती-बाड़ी

धान के खेत में पीएम मोदी क्या कर रहे हैं ?

पीएम मोदी ने फिलिपींस में अंतर्राष्ट्रीय चावल अनुसंधान केंद्र में एक विशेष प्रयोगशाल का उद्घाटन किया । साथ ही भारत की ओर से IRRI को भारतीय चावल की दो वेराइटिज…
और पढ़ें »
बिहार/झारखंड

पूंजीपति रहेंगे मस्त तो किसान रहेंगे पस्त

ब्रह्मानंद ठाकुर तमिलनाडु के किसानों का आंदोलन और मध्य प्रदेश के मंदसौर में अपनी मांगों को लेकर आंदोलनकारी किसानों पर पुलिसिया जुल्म के बाद तमाम किसान संगठन एक मंच पर…
और पढ़ें »
आईना

दिल्ली को गैस चैंबर में रहना पसंद है ?

फोटो साभार- एडवोकेट प्रताप राठौर । दिल्ली-एनसीआर में प्रदूषण अपने खतरनाक स्तर तक पहुंच गया है । बर्दाश्त करने की क्षमता से कई गुना प्रदूषण बढ़ जाने से दिल्ली सरकार…
और पढ़ें »
चौपाल

पैराडाइज पेपर्स: यहां सत्ता का झगड़ा नहीं है, सब शून्य में समाहित हैं!

इंडियन एक्सप्रेस ने नोटबंदी डे से पहले किया बड़ा खुलासा । कर-स्वर्ग के स्वामियों को धरती के अज्ञानियों का एक पैग़ाम । कर के स्वर्गलोक का खुफिया तोरण द्वार सज़ा…
और पढ़ें »
चौपाल

मजदूरों की सबसे बड़ी क्रांति के सौ बरस

ब्रह्मानंद ठाकुर आज हम चांद और मंगल पर घर बसानों की सोच रहे हैं, लेकिन जो धरती पर हैं उनकी सुध नहीं ले रहे। आखिर दुनिया में अमीर और गरीब…
और पढ़ें »
माटी की खुशबू

जंतर-मंतर पर आंदोलनकारियों की नो एंट्री

जंतर-मंतर पर प्रदर्शन बैन । जंतर-मंतर पर आंदोलनकारियों की नो एंट्री। अब कोई वहां आंदोलन नहीं करेगा । 24 साल से धरना स्थल के रूप में उभरने वाला जंतर-मंतर अब…
और पढ़ें »
यूपी/उत्तराखंड

मुंबई में कानून का राज है या राज ठाकरे का ?

आप में से कितने लोग इस कदर गांधीवादी हैं कि कोई आपको एक गाल पर तमाचा मारे तो आप दूसरा गाल बढ़ा देंगे ? मुझे जवाब दीजिए या न दीजिए,…
और पढ़ें »
सुन हो सरकार

एक पत्रकार की गिरफ्तारी से नहीं छिपेगा सच

अजीत अंजुम दो दिन के दौरान बीबीसी के पूर्व पत्रकार विनोद वर्मा की गिरफ़्तारी को लेकर पचासों पोस्ट, दर्जनों  थ्यौरी और सैकड़ों कमेंट्स के बीच सोशल मीडिया में तैरती एक तस्वीर पर मेरी नज़र एकाएक ठिठक गई। तस्वीर में दिख रहे विनोद वर्मा छत्तीसगढ़ पुलिस के शिकंजे में हैं। उन्हें पुलिस…
और पढ़ें »