Archives for याद आवता गांव - Page 2

सुनो डुमरिया, क्या बोले बहुरिया?

बिहार के अररिया जिले का मिल्की डुमरिया गांव। नौनिहालों के सपनों की चिंता। फोटो- नीलू अग्रवाल                       मेरे जेहन में कोई गांव नहीं और न ही मेरी परवरिश गांव में हुई।…
और पढ़ें »

गोली धीरे से चलइयो… ‘सरकार’!

पांच नदियों के मिलन स्थल से एक धारा चिंताओं की। फोटो सौजन्य- बहुत दिनों के बाद पिछले दिनों गाँव जाना हुआ। मेरा गाँव बुंदेलखण्ड के दक्षिणी छोर पर चम्बल और…
और पढ़ें »
12