Archives for परब-त्योहार

परब-त्योहार

सामा खेले गेलिअइ भइया के अंगना हे!

ब्रह्मानंद ठाकुर सामा चकेवा बिहार का एक प्रमुख लोक पर्व है जो कार्तिक महीने के शुक्ल पक्ष में चतुर्थी तिथि से पूर्णिमा तक मनाया जाता है। यह पर्व मिथकीय कथाओं…
और पढ़ें »
परब-त्योहार

इंसान का प्रकृति प्रेम और छठ पर्व की परंपरा

ब्रह्मानंद ठाकुर छठ पर्व जितना आस्था और विश्वास का पर्व है उतना है वैज्ञानिक भी । छठ का प्रकृति से गहरा नाता है इसीलिए छठ व्रत में इस्तेमाल होने वाली…
और पढ़ें »
परब-त्योहार

छठी मइया अईली पहुनवा हो रामा …

रीमा प्रसाद, टीवी पत्रकार मां,  सबसे पहले तो माफ़ी देना कि अबकी बरस मैं छठ में नहीं आ रही हूं। मैं जानती हूं इतना कह देने भर से मेरी ज़िम्मेदारी…
और पढ़ें »
परब-त्योहार

दिवाली में छिपी है प्रकृति से प्रेम की कला

ब्रह्मानंद ठाकुर भारतीय संस्कृति शाश्वत मूल्यों की चिरंतन जीजिविषा है। आदर्श एवं आध्मात्म की परम्परा इस देश का मूलमंत्र रहा है। धार्मिक तथा दार्शनिक चिंतन की मूल धारा मानव जीवन…
और पढ़ें »
परब-त्योहार

बदलाव पाठशाला के दूसरे दिन बच्चों में दिखा उत्साह

मुजफ्फरपुर के पियर गांव में छात्रों को पढ़ाते हुए ब्रम्हानंद ठाकुर जी । महात्मा गांधी  और पूर्व प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री के जयंती के दिन शुरू हुई बदलाव डॉट कॉम…
और पढ़ें »
परब-त्योहार

‘झिझिया’ को संवारने की जरूरत है सरकार !

ब्रह्मानन्द ठाकुर झिझिया बिहार में खासकर मिथिला और बज्जिकांचल का प्रमुख लोकनृत्य है। इसका आयोजन शारदीय नवरात्र में किया जाता है। यह पूरी तरह से महिलाओं का आयोजन है। इसमें…
और पढ़ें »
परब-त्योहार

बदलाव छात्रवृति योजना के लिए प्रस्ताव

शंभु झा दोस्तो,  समाज में सार्थक और सकारात्मक बदलाव के लिए वैल्यू एजुकेशन एक बुनियादी जरूरत है। लेकिन हमने विकास का जो मॉडल अपनाया है, उसमें समाज के बहुत बड़े…
और पढ़ें »
परब-त्योहार

बच्चों को बना लें जिगरी दोस्त

शंभु झा बच्चों के मन की बात कैसे करें, कार्यक्रम में बच्चे और अभिभावक। रविवार की अलसाई दुपहरी थी। मैं कुर्सी पर बैठे-बैठे ही एक झपकी ले चुका था और…
और पढ़ें »
परब-त्योहार

बच्चों से मन की बात करना कोई रॉकेट साइंस नहीं

अजय राणा बदलाव और ढाई आखर के कार्यक्रम में एसपी सिटी आलोक तोमर, डॉक्टर अंजली चौधरी, डॉक्टर नीलम सक्सेना, दयाशंकर मिश्र और अन्य गणमान्य वक्ता। आज की दौड़ती भागती जिंदगी…
और पढ़ें »
परब-त्योहार

ये दिल तुम्हारे प्यार का मारा है दोस्तों

जूली जयश्री दोस्ती इस रिश्ते के मामले में मैं इतनी अमीर हूं कि समझ में नहीं आ रहा कहां से शुरू करूं। किस-किस का जिक्र करुं ! अब तक के…
और पढ़ें »