Archives for चौपाल - Page 5

चौपाल

पद्मावत- जाति के ठेकेदारों ने बवाल क्यों काटा?

अनुशक्ति सिंह मैं पैदाइश से राजपूत हूँ. मेरे नाम के पीछे लगा 'सिंह' सरनेम मेरे पिता की थाती है जो मेरे साथ जुड़ी हुई है. वैसे ही जैसे किसी भी…
और पढ़ें »
चौपाल

मनमोहन-मोदी का फर्क, जवाब में नहीं मीडिया के सवाल में ढूंढिए

राकेश कायस्थ यह समय भारतीय समाज के स्मृति लोप का है। याद्दाश्त गजनी की तरह आती-जाती रहती है। जो लोग यह कहते हैं कि पहले वाले प्रधानमंत्री भी मीडिया से…
और पढ़ें »
चौपाल

‘कानून’ आया आपके द्वार: ‘समझबूझ’ कर लड़ो लड़ाई

प्रियंका यादव राजधानी दिल्ली में एसडीएम ऑफिस में अपनी तरह का पहला फ्री लीगल क्लिनिक सेवा की शुरुआत की गई है । मध्य दिल्ली के करोलबाग एसडीएम ऑफिस में शुरू…
और पढ़ें »
चौपाल

कोरेगांव की लड़ाई- सैनिकों की कोई जाति नहीं होती

अमरेश मिश्र  कोरेगांव की लड़ाई का जश्न मैं कभी पचा नहीं पाया। फिर भी, आधुनिक भारत की जटिल जातीय राजनीति के मद्देनज़र, इस घटना का उत्सव मनाने के लिए दलित…
और पढ़ें »
चौपाल

दांडी बंगला और डाक बंगले का फ़र्क मिटने को है!

धीरेंद्र पुंडीर "नाम क्या है इसका।" एक वीरान से पड़े बंगले के अंदर खड़े होकर मैंने बंगले में बैठे उस युवा से पूछा। एक शर्माती सी मुस्कुराहट के साथ अशोक ने…
और पढ़ें »
चौपाल

किसके डर की अभिव्यक्ति है भीमा-कोरेगांव की घटना

ब्रह्मानंद ठाकुर जहां तर्क और वैज्ञानिक दृष्टिकोण को सिरे से नकारते हुए अंधविश्वास, कूपमंडूकता  और अतार्किक मानसिकता को बढावा देकर आर्थिक और सामाजिक विषमता की खाई चौड़ी करने में ही…
और पढ़ें »
चौपाल

‘सुशासन बाबू का फ़ैसला गांधीद्रोह से कम नहीं’

पहली बार जिस खपरैल में गांधी का स्कूल शुरु हुआ था ब्रह्मानंद ठाकुर बिहार सरकार के एक फैसले को लेकर पिछले दिनों अखबारों में 'बुनियादी विद्यालयों को खत्म करने पर…
और पढ़ें »
चौपाल

गांधी के 3 बंदर गायब हो गए… और उनके मंत्र?

धीरेंद्र पुंडीर ये तो गांधी जी की सत्याग्रह की जगह है जहां से गांधी जी ने सत्याग्रह किया है। वहां पर छुआछूत रख रहे तो पूरे भारत का क्या हाल…
और पढ़ें »
चौपाल

‘आनंद का दिन’ और ‘नैतिक जीत’ का निहितार्थ

शशि शेखर (फेसबुक वॉल से साभार) ‘जो जीता वही सिकंदर’ और ‘हारे को हरिनाम’। ये दो ऐसी कहावते हैं, जिन्हें हम चुनाव दर चुनाव पढ़ते-सुनते आए हैं। गुजरात के परिणामों…
और पढ़ें »
चौपाल

गुजरात की सियासी पिच पर जिग्नेश की ‘जमात’ पारी

शिरीष खरे जिग्नेश के रहने का अंदाज और पहनावा उन्हें मुख्यधारा के नेताओं से अलग करता है। उनकी जिंदगी के दूसरे पहलू भी उन्हें बाकी नेताओं से जुदा करते हैं।…
और पढ़ें »