Archives for चौपाल - Page 3

चौपाल

‘सुशासन बाबू का फ़ैसला गांधीद्रोह से कम नहीं’

पहली बार जिस खपरैल में गांधी का स्कूल शुरु हुआ था ब्रह्मानंद ठाकुर बिहार सरकार के एक फैसले को लेकर पिछले दिनों अखबारों में 'बुनियादी विद्यालयों को खत्म करने पर…
और पढ़ें »
चौपाल

गांधी के 3 बंदर गायब हो गए… और उनके मंत्र?

धीरेंद्र पुंडीर ये तो गांधी जी की सत्याग्रह की जगह है जहां से गांधी जी ने सत्याग्रह किया है। वहां पर छुआछूत रख रहे तो पूरे भारत का क्या हाल…
और पढ़ें »
चौपाल

‘आनंद का दिन’ और ‘नैतिक जीत’ का निहितार्थ

शशि शेखर (फेसबुक वॉल से साभार) ‘जो जीता वही सिकंदर’ और ‘हारे को हरिनाम’। ये दो ऐसी कहावते हैं, जिन्हें हम चुनाव दर चुनाव पढ़ते-सुनते आए हैं। गुजरात के परिणामों…
और पढ़ें »
चौपाल

गुजरात की सियासी पिच पर जिग्नेश की ‘जमात’ पारी

शिरीष खरे जिग्नेश के रहने का अंदाज और पहनावा उन्हें मुख्यधारा के नेताओं से अलग करता है। उनकी जिंदगी के दूसरे पहलू भी उन्हें बाकी नेताओं से जुदा करते हैं।…
और पढ़ें »
खेती-बाड़ी

सौर ऊर्जा से खेतों में सिंचाई कीजिए, और फसलों की छंटाई भी

सौर ऊर्जा आज हमारे देश में वैकल्पिक ऊर्जा का प्रमुख साधन बन चुकी है । अमूमन लोग सौर ऊर्जा का मतलब महज बल्ब जलाने या फिर फैन चलाने तक सिमित…
और पढ़ें »
खेती-बाड़ी

एक ऐसा फ्रीजर जो बिना बिजली के दूध रखता है ठंडा

भारत में हर साल गांव वाले 102 मिलियन गैलन यानी 38 करोड़ 61 लाख 12 हजार लीटर दूध का उत्पादन करते हैं। इस दूध को बिजली के अभाव में बगैर…
और पढ़ें »
चौपाल

बापू के हत्यारों की सोच आज भी जिंदा है !

फाइल फोटो अजीत अंजुम इस देश में बहुत बड़ी जमात ऐसी है, जिन्हें गांधी के हत्यारों में अपना आदर्श नजर आता है । उन्हें कठघरे में बैठे गांधी के इन…
और पढ़ें »
खेती-बाड़ी

बाढ़ प्रभावित किसानों के लिए बड़ा गिफ्ट… फिलिपींस से खुशहाली की ख़बर

फोटो साभार- प्रभात ख़बर तीन हफ्ते लंबी बाढ़ को भी मात दे रही है धान की यह नयी वेराइटी. बिहार के सीतामढ़ी जिले के रुन्नीसैदपुर प्रखंड के तिलक ताजपुर गांव…
और पढ़ें »
खेती-बाड़ी

धान के खेत में पीएम मोदी क्या कर रहे हैं ?

पीएम मोदी ने फिलिपींस में अंतर्राष्ट्रीय चावल अनुसंधान केंद्र में एक विशेष प्रयोगशाल का उद्घाटन किया । साथ ही भारत की ओर से IRRI को भारतीय चावल की दो वेराइटिज…
और पढ़ें »
चौपाल

कैसे बचाएं हम अपनी बेटियों को ?

अजीत अंजुम बहुत हिम्मत जुटाकर आज ये लिखने बैठा हूं। अभी भी शब्द और ऊंगलियां साथ नहीं दे रही हैं। दिल्ली में दुष्कर्म की शिकार हुई सात साल और डेढ़…
और पढ़ें »