Archives for चौपाल - Page 3

चौपाल

कांग्रेस मुक्त भारत का थका नारा और गुजरात के सबक

राकेश कायस्थ जिस दौर में चोर को चाणक्य और तड़ीपार को तारनहार का समानार्थी मान लिया गया है। उसी दौर में गुजरात की तीन राज्य सभा सीटों के लिए वोटिंग…
और पढ़ें »
चौपाल

सुनो ! कोरी बकवास नहीं है बुलेट ट्रेन

सत्येंद्र कुमार यादव जिन्हें लग रहा है कि भारत में बुलेट ट्रेन दौड़ाना कोरी कल्पना है उन्हें अपनी गलतफहमी दूर कर लेनी चाहिए। ये कोरी बकवास नहीं है। खबर है…
और पढ़ें »
चौपाल

कुपोषित बच्चों से सशक्त राष्ट्र का सपना कैसे होगा पूरा?

बदलाव प्रतिनिधि, पटना फोटो-अजय कुमार कोसी बिहार भारत युवा आबादी के मामले में अग्रणी देशों की कतार में आता है। यहाँ 44 करोड़ से अधिक जनसंख्‍या 18 साल से कम…
और पढ़ें »
चौपाल

बाढ़ की आपदा को हम ही दे रहे हैं बार-बार न्योता

रूचा जोशी मानव सभ्यता के उदभव काल से ही मनुष्यों का नदियों से घनिष्ठ सम्बन्ध रहा है।  प्रारंभिक काल में सारी सभ्यताएं नदियों के किनारे ही विकसित हुईं तथा उनका…
और पढ़ें »
चौपाल

जोखिमों से होकर गुजरता है कामयाबी का रास्ता

रूचा जोशी "कैरियर क्या चुनें? ' इस सवाल से सभी लोगों को गुजरना पड़ता है। मैं भी इससे गुजर चुकी हूं। शब्दकोश के अनुसार कैरियर एक पेशा या व्यवसाय है…
और पढ़ें »
चौपाल

बाल मजदूरी की यातना और सपनों के इंजीनियर

अनिल पांडेय कभी बाल मजदूर रहे सुनील और शिवम के जज्बे को सलाम। दोनों मेरे बहुत प्रिय हैं। दोनों से मिल कर मन में सकारात्मक उर्जा का संचार हो जाता…
और पढ़ें »
चौपाल

गांधी को महात्मा बनाने की ‘चम्पारण कथा’ की पहली झलक

पुष्यमित्र चंपारण सत्याग्रह पर आधारित इस किताब को लिखना जब शुरू किया था तो चम्पारण सत्याग्रह की बहुत कम जानकारियां उपलब्ध थीं, चम्पारण इतिहास की किताबों में महज एक अनुच्छेद…
और पढ़ें »
चौपाल

दिल्ली के SDM प्रशांत, जो सेवा में ढूंढते हैं सुकून

अरुण प्रकाश आए दिन देश में धरना-प्रदर्शन हो हंगामा होता रहता है, लेकिन क्या हमने कभी समान शिक्षा और बेहतर स्वास्थ्य व्यवस्था के लिए संघर्ष किया। अगर किया होता तो…
और पढ़ें »
चौपाल

दिल्ली गोल्फ क्लब का औपनिवेशिक दंभ और घृणित ‘अपराध’

नीतेश राणा AppleMark "क्या हमारा समाज आज़ादी के 70 सालों बाद भी औपनिवेशिक दंभ और दासता से मुक्त हो पाया है? " ये सवाल बार-बार मेरे जेहन में कौंध रहा…
और पढ़ें »
चौपाल

देश की तहज़ीब ‘अकबरुद्दीनों’ और ‘तोगड़ियों’ के ख़िलाफ़- राणा यशवंत

राणा यशवंत अकबरुद्दीन ओवैसी साभार फेसबुक। 3 जुलाई 2017। मेरे मित्र अभिसार शर्मा ने आज अकबरुद्दीन ओवैसी के बयान पर एक पोस्ट लिखी और कहा कि "आखिर क्या गलत कह…
और पढ़ें »