Archives for चौपाल - Page 16

जेएनयू को ‘राष्ट्रद्रोही’ कहना, ‘देशभक्ति’ नहीं है!

विकास दिव्यकीर्ति (एक हज़ार से ज़्यादा शेयर और करीब 3000 लाइक्स। विकास दिव्यकीर्ति ने जेएनयू प्रकरण पर संतुलित राय रखी है। सोशल मीडिया पर साथियों ने अपने अंदाज में ये…
और पढ़ें »

इंसाफ़ के मंदिर में ये ‘राष्ट्रदूत’ कौन हैं?

गांधी के इस देश में हम कहें चाहें कुछ भी लेकिन जब बड़े मौके आते हैं तो हम अहिंसा के धर्म का पालन नहीं करते। हिंसा के बूते ही अपनी…
और पढ़ें »

‘उन्माद’ की आग में अपने-अपने चेहरे देख लो

जेएनयू पर चर्चाओं का दौर जारी है। सोशल मीडिया पर जंग चल रही है। आपसे किए वादे के मुताबिक टीम बदलाव संवाद की प्रक्रिया को जारी रख रही है। बस…
और पढ़ें »

जेएनयू में हंगामा क्यों बरपा है… सबको पता है!

जेएनयू में 'देशद्रोह' पर हंगामा बरपा है। हंगामा ऐसा कि दो गुट बंट गए हैं। अब वैचारिक स्तर पर बातचीत की बजाय गाली-गलौच और लाठी के बल पर बात मनवाने…
और पढ़ें »

‘स्टार्ट अप’ से ‘स्टैंड अप’ तक… कहीं वो तमाशबीन ही न रह जाएं?

राजेंद्र तिवारी आलेख में इस्तेमाल सभी फोटो- राजेंद्र तिवारी के फेसबुक वॉल से साभार। अस्सी के दशक में जब आर्थिक ‘ट्रिकल डाउन’ थ्योरी आयी थी और नब्बे के दशक में…
और पढ़ें »

मालदा से पूर्णिया तक ‘आग’ पर कोई न सेंके अपनी ‘रोटी’

कहां छिप गए वे सेक्युलर, मानवतावादी... ! पद्मपति शर्मा (फेसबुक वॉल पर) पद्मपति शर्मा मालदा के बाद पूर्णिया ! यह हो क्या रहा है ? क्या सहिष्णुता सिर्फ उस बहुसंख्यक…
और पढ़ें »

‘घास की रोटी’ का जुमला यूं ही न उछालिए जनाब

आशीष सागर दीक्षित घास की रोटी की हक़ीकत की पड़ताल। सभी फोटो- आशीष सागर दीक्षित '' एक वो है जो रोटी बेलता है, एक वो है जो रोटी सेंकता है…
और पढ़ें »

ये फ़िक्र बे’कार’ नहीं, बेकार है सियासी ‘चिल्ल-पों’

फोटो- @choudharyview सैयद जैग़म मुर्तज़ा भाई दिल्ली में बे-कार रहने वाले हम जैसे लोग तो ख़ुश हैं। पिछले पांच साल में चंद छुट्टी वाले दिनों को छोड़कर सड़कों पर इतना…
और पढ़ें »

हम चलते गए, कारवां बनता गया…

  साल 2015 बीत गया और साल 2016 के सूरज ने दस्तक दे दी। पुराने साल में पाठकों से बने रिश्ते को सहेजे टीम बदलाव नए साल में दाखिल हुई…
और पढ़ें »

गांव बीरबलपुर में 65 साल की ‘राजशाही’ का ख़ात्मा

अरुण प्रकाश क्या आप किसी ऐसे गांव के बारे में जानते हैं जहां ‘राजशाही’ रही हो। नहीं जानते हैं तो आज हम आपको एक ऐसे ही गांव से रूबरू करा…
और पढ़ें »