पत्रकार चंद्रशेखर के परिवार की मदद के लिए साथी हाथ बढ़ाना

पत्रकार चंद्रशेखर की कोरोना से मौत ने मीडिया जगत में काम करने वालों की संवेदनाओं को झकझोर कर रख दिया

और पढ़ें >

ईमानदार और कर्तव्यनिष्ठ मुलाजिम की मीडिया में कोई कद्र नहीं !

रवि रंजन के फेसबुक वॉल से साभार दुखद… बहुत दुखद…. आत्मा कराह रही है…. बेहद ईमानदार, कर्तव्यनिष्ठ, जी जान लगाकर

और पढ़ें >

‘एसपी सिंह की बहुत याद आती है’

वरिष्ठ पत्रकार राजेश प्रियदर्शी के फेसबुक वॉल से साभार मुझ जैसे अनेक पत्रकारों के mentor या दोस्ताना उस्ताद एसपी की

और पढ़ें >

कोरोना नहीं हमारा सिस्टम है पत्रकार चंद्रशेखर की मौत का जिम्मेदार !

एक गरीब परिवार का लड़का कुछ सपने लेकर गांव से शहर की गलियों में आया था । पत्रकार बनकर समाज

और पढ़ें >

चंद्रशेखर और हुमा की मौत अब हमारे लिए कोरोना का सिर्फ नंबर नहीं

प्रभाकर मिश्रा के फेसबुक वॉल से साभार आज मन बहुत उदास है। बहुत डर लग रहा है। पहले खबर आ

और पढ़ें >

पिता का ‘जज बेटा’ क्यों बन गया पत्रकार ?

वरिष्ठ पत्रकार उर्मिलेश के फेसबुक वॉल से साभार सुबह-सुबह आज ‘बाबू’ की याद आई ! मां-पिता के गये वर्षों गुजर

और पढ़ें >

आत्मनिर्भर बनाना है तो हुनर को पहचानना होगा

पुष्यमित्र के फेसबुक वॉल से साभारइस किसान ने अपनी टूटी सायकिल में स्कूटी का टायर जोड़ कर इसे मोबाइल पम्पसेट

और पढ़ें >

“सर… मेरी बात पहले सुन लीजिए, तब कुछ कहिएगा”

लॉक डॉउन के शुरुआती दिनों से ही मैं विभिन्न संचार माध्यमों से देश के अलग अलग हिस्सों में रह रहे

और पढ़ें >