Archives for गांव के नायक

गांव के नायक

पियुष ने मां तेरे नाम ज्ञान का दीप जलाया है

ब्रह्मानंद ठाकुर बदलाव पाठशाला, पियर, मुजफ्फरपुर पिछले साल 2 अक्टूबर को टीम बदलाव के साथियों की पहल और प्रेरणा से मुजफ्फरपुर जिले के अपने गांव पियर में हमने बदलाव पाठशाला…
और पढ़ें »
गांव के नायक

सीवान में रक्तवीरों की टोली

जयंत कुमार सिन्हा करीब साल भर पहले का एक दिन, मैं तब शहर सीवान में था। डाँ राजेन्द्र प्रसाद, मजहरुल हक, और खुदा बक्श का सीवान। जब शहर के स्कूल…
और पढ़ें »
गांव के नायक

ग्राम प्रधान बनने वक्त बस्ती की बेटी की सोच क्या थी?

रुपम शर्मा, नवनिर्वाचित ग्राम प्रधान, डुहवा मिश्र, बस्ती उत्तर प्रदेश में ग्राम संसद के चुनावों के बाद टीम बदलाव ने तब चुनी गईं रूपम शर्मा से विस्तार से बातचीत की…
और पढ़ें »
गांव के नायक

जौनपुर में किसानों की जिंदगी बदलने में जुटे सत्यप्रकाश

रवि पाल           शहर की भाग दौड़ भरी जिंदगी में हर किसी को कुछ ना कुछ समझौता करना पड़ता है, किसी को समय के साथ, किसी…
और पढ़ें »
गांव के नायक

विनोद दुआजी, तुस्सी ग्रेट हो!

नदीम एस अख़्तर  कहते हैं जो पेड़ से फल से जितना लदा होता है, वो उतना ही झुका होता है. एक दफा फिर जिंदगी में इसे अपने सामने घटते देखा.…
और पढ़ें »
गांव के नायक

इंटरनेट की दुनिया- ‘कुंदन’ घिसता गया, चमक बढ़ती गई

कुंदन शशिराज एक ऐसे युवा के तौर पर अपने साथियों के बीच जाने जाते हैं, जो अपने जुनून के लिए किसी भी हद तक जा सकता है। इलेक्ट्रॉनिक मीडिया की…
और पढ़ें »
गांव के नायक

संडे हो या मंडे, अंडे से समझिए ज़िंदगी के फंडे

प्रशांत दुबे वैसे तो संदेशा देने के लिए आजकल सरकारी महकमों में एक अलग ही शाखा होती है, जिसका नाम होता है आई ई सी शाखा। पर कुछ लोग ऐसे…
और पढ़ें »
एमपी/छत्तीसगढ़

गांव की फिल्म मेकर ने जीता अवॉर्ड

रुपेश गुप्ता करीब डेढ़ साल पहले की बात है। छत्तीसगढ़ की मैनपाट और मांझी जनजाति अचानक सुर्खियों में आ गई। हालांकि तब मांझी जनजाति के पांच साल के एक बच्चे…
और पढ़ें »

खुद खाली पेट और वो चलाते हैं ‘एक रोटी अभियान’

पुष्यमित्र दुनिया अच्छे लोगों से खाली नहीं हुई है। दिलचस्प बात यह है कि आप महानगर छोड़ कर बाहर निकलें आपको ऐसे लोग कदम-कदम पर मिल जाते हैं। ऐसे ही…
और पढ़ें »
गांव के नायक

SP कुमार आशीष ने ‘दीपक’ सी जिद ठानी है!

दीपों के पर्व की रौनक हर तरफ बिखरी है। समाज का हर तबका अपने-अपने अंदाज में दीवाली मना रहा है। समाज के कुछ ऐसे दीपक भी हैं, जिसकी रोशनी से…
और पढ़ें »