Archives for गांव के नायक

गांव के नायक

झूठ की फैक्ट्री और सच के आईने में नेहरू

आलोक श्रीवास्तव के फेसबुक वॉल से साभार ‘इंडिया टुडे’ के पूर्व पत्रकार पीयूष बबेले ने जवाहरलाल नेहरू पर शानदार किताब लिखी है। तीन महीने पहले जब वे पांडुलिपि के साथ…
और पढ़ें »
गांव के नायक

पोथी पढ़-पढ़ जग मुआ, गांधी भया न कोय

ब्रह्मानंद ठाकुर गांव-घर में  आज-कल खेती-पथारी, माल-मवेशी, शादी-विवाह की चर्चा न के बराबर होती है। कारण है अभी न खेती-किसानी का मौसम है और न शादी-विवाह का लगन। खेत में…
और पढ़ें »
गांव के नायक

जलकर बढ़ने की सीख देने वाले राष्ट्रीय चेतना के प्रखर कवि दिनकर 

संजय पंकज राष्ट्रीय चेतना के प्रखर और ओजस्वी कवि रामधारी सिंह दिनकर सामाजिक दायित्व और वैश्विक बोध के भी बड़े प्रभावशाली कवि थे । एक तरफ उनकी कविताएँ शौर्य और…
और पढ़ें »
गांव के नायक

बदलाव पाठशाला: हम चलते रहे, कारवां बनता गया

शिक्षापथ पर बढ़ते बदलाव के कदम ब्रह्मानंद ठाकुर आगामी 2 अक्टूबर को बदलाव पाठशाला  का एक साल पूरा हो जाएगा।  6 साल से 13 साल तक के 8 बच्चों के…
और पढ़ें »
गांव के नायक

एसी वाले ‘बाबाओं’ की क्रांति और घोंचू भाई का मंत्र

ब्रह्मानंद ठाकुर फोटो- अजय कुमार, कोशी विप्लव जी इन दिनों गांव आए हुए है। इनका मूल नाम समरेन्द्र कुमार है लेकिन महानगर में जाकर जब लेखकीय पेशा अपना लिए तब…
और पढ़ें »
गांव के नायक

स्वामी विवेकानंद और हिंदू गौरव वाणी के 125 बरस

संजय पंकज संसार की प्रथम विश्व धर्म महासभा शिकागो,अमेरिका में 11 सितम्बर 1893 में विराट भारत खड़ा हुआ था। इसके साक्षी हजारों लोग थे, उन्हें तब आभास भी नहीं था…
और पढ़ें »
गांव के नायक

वैकल्पिक मीडिया पर एक्शन का इससे बेहतर वक़्त नहीं

राकेश कायस्थ के फेसबुक वॉल से साभार लंबे समय बाद गलती से न्यूज़ चैनल ऑन कर बैठा। सबसे हाहाकारी क्राइम शो में सुधा भारद्वाज और गौतम नवलखा की तस्वीरें कुछ…
और पढ़ें »
गांव के नायक

शिल्पा की मुस्कान से डर कर भागेगा कैंसर

अजीत अंजुम के फेसबुक वॉल से साभार ये शिल्पा जी हैं। हम सबकी दोस्त और हम सबके अजीज राजीव कुमार जी की पत्नी। कुछ महीने एक दिन अचानक पता चला…
और पढ़ें »
गांव के नायक

पटना में शहीदों के सम्मान में एक शाम

बदलाव प्रतिनिधि नक्सली हमले में शहीद सुरक्षाकर्मियों की याद में कृष्णा मेमोरियल हाल में 28 जुलाई की शाम एक कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इस कार्यक्रम का शुभारंभ डिप्टी सीएम…
और पढ़ें »
गांव के नायक

जेपी आंदोलन का ‘निर्मल’ सिपाही

पुष्यमित्र जेपी आंदोलन का नाम लेते ही 70 के दशक में युवा रहे आजकल के नेता अपने संघर्षों की कहानियां सुनाने से खुद को रोक नहीं पाते । आखिर सुनाएं…
और पढ़ें »