Archives for आईना

आईना

समांतर सिनेमा की राह बनाने वाले फिल्मकार की नज़र

अरविंद दास साल 2010 की गर्मियों के मौसम में हम पुणे स्थित फिल्म एवं टेलीविजन संस्थान (एफटीआइआइ) में फिल्म एप्रीसिएशन कोर्स करने गए थे। उस दौरान समांतर सिनेमा के अग्रणी…
और पढ़ें »
आईना

ना कह के भी, सब कहना है

अर्चना रीत जब उमड़े ज्वार सवालों केजब शब्दों में कहना हो मुश्किलजब कहना चाहो, अंदर का सबजब लगे कौन समझेगा, ये सबजब उलझन खुद ही, उलझी खुद में जब गिरह के…
और पढ़ें »
आईना

फूल और पत्तियां

पशुपति शर्मा/ आज फूल कर रहे थे बातें गुलाब, अपने रूप पर इतरा रहा था गेंदा, अपने गुणों का बखान कर रहा था सूरजमुखी, सूरज को ताक रहा था बाग…
और पढ़ें »
आईना

काम पूरा लेंगे, लेकिन दाम अधूरा देंगे…वाह रे हमारी लोकतांत्रिक सरकार !

सुधांशु कुमार वर्षों की सुनवाई,  उसके दौरान शिक्षकों के प्रति जजों की पूरी सहानुभूति,  शिक्षकों के खून-पसीने की कमाई के करोड़ों रुपये वकीलों पर खर्च ! इन सबके बाद लगभग…
और पढ़ें »
आईना

2019 चुनाव का सबसे धमाकेदार इंटरव्यू

वरिष्ठ पत्रकार उर्मिलेश के फेसबुक वॉल से पत्रकारिता के छात्रों और नये-पुराने तमाम पत्रकारों को NDTV पर प्रणय रॉय का सातवीं में पढ़ने वाली मोहनलालगंज(यूपी) की सुनयना का इंटरव्यू जरुर…
और पढ़ें »
आईना

शिक्षा के प्रति ‘सुशासन’ की पोल खोलता ‘सिमुलतला’

पुष्यमित्र जमुई गया तो सिमुलतला आवासीय विद्यालय को देखने के मोह से खुद को बचा नहीं सका। जब बिहार में मैट्रिक और इंटरमीडिएट के रिजल्ट आते हैं तो टॉप टेन…
और पढ़ें »
आईना

कैमूर के 108 गांव खोल रहे ‘विकास’ और ‘सुशासन’ की पोल

पुष्यमित्र नल से बूंद-बूंद पानी टपक रहा है। पानी पहले एक प्लास्टिक के गैलन के ढक्कन में गिर कर जमा होता, फिर वहां से एक छोटी सी देगची में जमा…
और पढ़ें »
आईना

महाराष्ट्र का एक ऐसा गांव जहां घर की तरह स्कूल भी हैं स्वच्छता की मिसाल

शिरीष खरे बीजापुर से आगे महाराष्ट्र के पश्चिमी छोर की ओर बढ़ा तो एक अलग ही नजारा दिखा ।  जितनी दूर तक देखो उसी अनुपात में उतनी दूर तक खाली-खाली…
और पढ़ें »
आईना

प्रजातंत्र में लहलहाता राजतंत्र का ‘रक्तबीज’

संजय पंकज सब जानते हैं कि आज की राजनीति नेताओं के लिए समाज-सेवा से ज्यादा सत्ता-सुख की भोग-चाहना है। वे दिन बहुत पीछे छूट गए जब 'भिक्षुक होकर रहते सम्राट,…
और पढ़ें »
आईना

साइलेंसर वाले इंसान

पशुपति शर्मा के फेसबुक वॉल से साभार बिहार के मशहूर चित्रकार राजेंद्र प्रसाद गुप्ता की कृति साइलेंसर वाली बंदूक बड़ी ख़तरनाक होती है  आपके आस-पास  चलते-फिरते शख्स को वो बुलाएंगे…
और पढ़ें »