टीम बदलाव

क्या आपने कभी बच्चों के मन की बात समझने की कोशिश की है, क्या आपने कभी ये सोचा है कि बच्चे अपने मां-बाप से क्या उम्मीदें करते हैं या फिर सिर्फ अपनी उम्मीदें और चाहत हमेशा बच्चों पर थोपते रहते हैं । आजकल शहरी भागदौड़ भरी जिंदगी में हमारे और आपके पास इतना वक्त भी नहीं होता की ठीक से बच्चों का हाल-चाल जान सकें तो भला उनके मन की बात को कैसे समझ सकते हैं । नतीजा ये होता है कि धीरे-धीरे बच्चों और अभिभावकों में तालमेल का अभाव होने लगता है । बच्चे जैसे-जैसे बड़े होते जाते हैं वैसे-वैसे दूरियां भी बढ़ने लगती हैं, लिहाजा इन तमाम सवालों को तलाशने के लिए badalav.com और ढाई आखर फाउंडेशन ने मिलकर बच्चों के मन की बात कार्यक्रम का आयोजन किया है । जो गाजियाबाद के वैशाली सेक्टर 6 में होगा, लेकिन आप देश के किसी कोने में भी रहकर इस कार्यक्रम का हिस्सा बन सकते हैं । बस आपको बदलाव के फेसबुक पेज पर जाना होगा और आप शाम 4 बजे से 6 बजे तक होने वाले इस कार्यक्रम को घर बैठे लाइव देख सकते हैं । को टटोलने और अभिभावकों की अपेक्षाओं में होने वाली तालमेल की कमी को समझने के लिए कैसे करें बच्चों के मन की बात कार्यक्रम का आयोजन किया है । नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करके भी आप सीधे badalavnews के फेसबुक से जुड़ सकते हैं…क्लिक करें—

तो भूलिएगा नहीं आज शाम 4 बजे से 6 बजे के बीच । बच्चों के मन की बात से जुड़िए फेसबुक लाइव पर , आप कार्यक्रम के दौरान सवाल भी कर सकते हैं । सिर्फ आपको कमेंट बॉक्स में जाकर सवाल टाइप करना होगा और हमारे एक्सपर्ट आपके सवाल का जवाब देंगे…जिसे आप लाइव सुन सकते हैं और वो भी घर बैठे सिर्फ फेसबुक पर ।आप इस लिंक पर क्लिक करें और बदलाव के फेसबुक पेज से जुड़े ।

https://www.facebook.com/profile.php?id=100009565791713

https://www.facebook.com/profile.php?id=100009565791713

badalavinfo@gmail.com

 

संबंधित समाचार